रेड क्रास का दुरूप्रयोग करने वालो पर होगी कठोर कार्रवाई

147

रेड क्रास चिन्ह के दुरूप्रयोग करने वालो पर कठोर कार्यवाही अमल में लाय जायेगी यह बात जिलाधिकारी सविन बंसल ने रेड क्रास से सम्बन्धित एक महत्वपूर्ण बैठक में कही। उन्होंने कहा कि रेड क्रास की गतिविधियों को बढ़ाने के लिये ग्रामीण क्षेत्रों में युवक मंगल दलों, महिला मंगल दला व भूतपूर्व सैनिकों को प्रशिक्षित कर रेड क्रास की गतिविधियों के लिये प्रेरित करना होगा। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि शासकीय विद्यालयों में रेड क्रास का अंशदान नियमित जमा होता है लेकिन निजि विद्यालयों में इसके लिये कोई को धनराशि जमा नही होती है इसके लिये उन्हें पुनीत कार्य हेतु प्रेरित करना होगा ताकि जमा धनराशि का असहाय, निराश्रित व आपदा प्रभावितों को उसका लाभ मिल सके। जिलाधिकारी ने सदस्य रेड क्रास सोसाइटी सविता ह्नयांकी को निर्देश दिये कि आम लोगों में जागरूकता फैलाने के लिये फ्लैसी व अन्य प्रचार सामाग्री प्रकाशित की जाय।

यही नही जिलाधिकारी ने सभी उपजिलाधिकारियों सहित जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे इस तरह के कार्या में अपनी सहभागिता बनायें। उन्होंने रेड क्रास के माध्यम से आवश्कता अनुसार स्टेचर क्रय करने के निर्देश दिये और कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में इन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये क्षेत्र प्रमुखों सहित अन्य जनप्रतिनिधियों से अपील की जाय। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि रेड क्रास के लिये यदि कोई दानदाता दान करना चाहे तो उसके लिये भी लोगों को प्रेरित किया जाय। जिलाधिकारी ने रक्तदान शिविरों के आयोजन पर भी बल दिया।

जिलाधिकारी ने इस अवसर पर सभी सक्रिय सदस्यों से सहयोग की अपील के साथ ही कहा कि जब भी कोई आपदा या अन्य दुर्घटनायें घटित होती हो तो उस समय पर स्वतः स्र्फूत भावना से काम करना होगा तभी इस तरह की सोसाइटीयों का महत्व बढ़ायेंगा। उन्होंने बहुउदेद्शीय शिविरों में भी रेड क्रास के बारे में बताने के निर्देश अधिकारियों को दिये साथ ही विकलांग शिविरों में अधिकाधिक सहभागिता पर बल दिया। इस बैठक में युवा कल्याण विभाग, नेहरूयुवक केन्द्र व होमगार्ड के जवानों से भी सहयोग लिया जाय।