कांग्रेस में ही अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे हैं हरीश रावत: भसीन

374

देहरादून [उत्तराखंड पोस्ट ब्यूरो] भाजपा ने पूर्व मुख्यमंत्री के उन बयानों पर कड़ी आपत्ति की है जिसमे उन्होंने देश की रक्षा के लिए सैनिकों की शहादत को अपमानित करने की कोशिश की है। भाजपा का यह भी कहना है कि विधानसभा सत्र में कांग्रेस अपने ही जाल में खुद फंस गई।

(उत्तराखंड पोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं, आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

आज एक बयान में भाजपा प्रदेश मीडिया प्रमुख् डॉ देवेंद्र भसीन ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री  हरीश रावत द्वारा देश की सीमा पर शहीद हो रहे जवानों की शहादत पर जिस प्रकार का राजनीतिक् बयान दिया है वह राष्ट्रीय हितों के विपरीत तो है ही वहीं सैनिकों का अपमान भी है।

उन्होंने कहा कि भारतीय सेना पाकिस्तान की नापाक  हरकतों का जबरदस्त जवाब दे रही है और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है लेकिन  रावत ने जो कहा वह दुर्भाग्यपूर्ण व निंदनीय है।

डॉ भसीन ने कहा कि हरीश रावत बौखलाहट का शिकार हैं। उनके द्वारा की जा रही गैरसैण यात्रा भी राजनीतिक नाटक से अधिक नहीं है। रावत की समस्या यह है कि उन्हें अपनी ही पार्टी के अंदर अपने अस्तित्व के लिए हाथ पैर मारने पड़ रहे हैं। इसलिए वे कोई न् कोई नाटक कर अपने को सुर्खियों में रखना चाहते हैं। इसी कोशिश का एक हिस्सा उनकी गैरसैंण यात्रा है।

डॉ भसीन ने कहा कि विधानसभा के सत्र के दौरान कांग्रेस ने मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत के नेतृत्व में भाजपा सरकार को घेरने के लिए जो भी जाल बुने बाद में कांग्रेस उसमें खुद ही फंस गई। मामला चाहे एन एच घोटाले का हो या ढेंचा बीज का हो सबमें कांग्रेस को मुँह की कहानी पड़ी । काँग्रेस को समझ लेना चाहिए कि भाजपा की कथनी और करनी में कोई अंतर नही है इसलिए उसके नकारात्मक प्रयासों का कोई परिणाम निकलने वाला नहीं है।

(उत्तराखंड पोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं, आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)