उत्तराखंड निकाय चुनाव | शानदार जीत के बावजूद बीजेपी को इसलिए चिंता करने की जरुरत

536

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड निकाय चुनावों में भारतीय जनता पार्टी  के दिग्गज ही अपने गृहक्षेत्रों में पार्टी उम्मीदवारों को जीत नहीं दिला पाए।

इनमें भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के साथ ही मुख्यमंत्री और दो कैबिनेट मंत्री शामिल हैं। जो बीजेपी के लिए चिंता की बात जरुर होगी।

प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के गृह जनपद अल्मोड़ा की सीट चिलियानौला में पार्टी हार गई। आपको बता दें कि भट्ट रानीखेत के हैं और विधानसभा चुनाव भी इसी सीट से लड़ते आए हैं। निकाय चुनावों में पार्टी ने चिलियानौला (रानीखेत) नगर पंचायत में अध्यक्ष पद पर विमला आर्य को टिकट दिया था, पर यहां निर्दलीय उम्मीदवार कल्पना देवी ने बीजेपी उम्मीदवार को 109 मतों से हरा दिया।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत के विस क्षेत्र डोईवाला नगर पालिका में पार्टी प्रत्याशी नगीना रानी हार गईं। यहां कांग्रेस की प्रत्याशी सुमित्रा देवी ने उन्हें शिकस्त दी।

गदरपुर विधानसभा से विधायक औऱ कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय के गढ़ में भाजपा प्रत्याशी संतोष कुमार हार गए हैं। उन्हें निर्दलीय गुलाम गौस ने हराया।

कोटद्वार नगर निगम क्षेत्र में भी भाजपा को हार का सामना करना पड़ा। कैबेनिट मंत्री हरक सिंह रावत कोटद्वार में पार्टी प्रत्याशी नीतू रावत को हार से नहीं बचा पाए।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र के गढ़ में भाजपा को झटका, डोईवाला सीट हारी पार्टी

विधानसभा चुनाव में मां से खाई थी मात, बेटे को हरा कर लिया बदला

उत्तराखंड निकाय चुनाव | इस सीट पर जनता ने इसलिए चाय बेचने वाले को चुना

Follow us on twitter – https://twitter.com/uttarakhandpost

Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/