दिल्ली हिंसा | हेड कॉन्स्टेबल की गोली मारकर हत्या, सीने पर तनी थी पिस्तौल फिर भी डटा रहा कॉन्स्टेबल

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) नागरिकता संशोधन कानून  के विरोध के नाम पर दिल्ली में जगह-जगह हो रहे प्रदर्शनों के बीच भड़की हिंसा में दिल्ली पुलिस के एक हेड कॉन्स्टेबल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वहीं प्रदर्शनकारियों की ओर की जा रही पत्थरबाजी में कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।

इसके अलावा IPS अफसर ACP गोकुलपुरी अनुज कुमार भी पत्थरबाज़ी में घायल हुए हैं। उन्हें मैक्स पटपड़गंज में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायल डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा की सर्जरी चल रही है।

इसके बाद  से हिंसा की तस्वीरों और वीडियो ने पूरे देश को हिला दिया है। इन तस्वीरों में सबसे ज्यादा विचलित करने वाली तस्वीर में युवक हाथ में पिस्तौल लिए नजर आ रहा है। एक तस्वीर में तो यह युवक एक पुलिसकर्मी पर पिस्तौल ताने हुए नजर आ रहा है। दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी है कि इस युवक की पहचान शाहरुख के तौर पर हुई है।

जानकारी के मुताबिक जाफराबाद में हिंसा के दौरान पुलिसवालों ने उपद्रवियों को समझाने की कोशिश की। इसी दौरान एक युवक ने पिस्टल निकाल ली। एक पुलिसकर्मी ने उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन वह रुका नहीं। उपद्रवी करीब पांच-राउंड फायरिंग करता चला गया। यही युवक दीवार की आड़ में फायरिंग करता हुआ पाया गया है। पुलिस ने इसे बाद में हिरासत में ले लिया है। इसकी पहचान जाफराबाद में रहने वाले शाहरुख के तौर पर हुई है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। प्रदर्शनकारियों की तरफ से की गई फायरिंग में हेड कॉन्स्टेबल की जान चली गई।

पुलिस सूत्रों का दावा है कि इलाके में काफी राउंड गोलियां उपद्रवियों की तरफ से चलाई गई हैं। उपद्रव के दौरान कई लोग पिस्टल लगाकर घूम रहे थे। यही नहीं, कई जगह पर लोग घरों से भी फायरिंग करते हुए देखे गए।

Youtube  http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                                

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost