Home चारधाम यात्रा

चारधाम यात्रा

दुर्घटना मुक्त हो चारधाम यात्रा मार्ग, राज्यपाल ने दिए निर्देश

उत्तराखंड में सुरक्षित चार धाम यात्रा को लेकर राज्यपाल डॉ के के पॉल ने चारधाम यात्रा रूट के सभी जनपदों के जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों औऱ साथ ही लोक निर्माण विभाग को विशेष एहतियात/सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। राज्यपाल...

खुशखबरी |चार धाम यात्रियों के लिए तोहफा, अब आसान होगी यात्रा

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने चार धाम यात्रा करने वालों श्रद्धालुओं को बड़ा तोहफा दिया है। उन्होंने कहा है कि इन तीर्थ स्थलों को आपस में जोड़ने के लिए नया हाईवे बनाया जाएगा। इस पूरे...

शुभ समाचार | 9 मई को खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट

भोले बाबा के धाम केदारनाथ मंदिर के कपाट नौ मई को सुबह सात बजे खोले जाएंगे। ऊखीमठ स्थित ओंकारेश्वर मंदिर में आचार्यों और वेदपाठियों की उपस्थिति में केदारनाथ मंदिर के रावल भीमाशंकर लिंग ने शुभ मुहूर्त की घोषणा की। महाशिवरात्रि...

9 मई को खुलेंगे गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट

उत्तराखड के हिमालयी क्षेत्र में स्थित पवित्र चार धाम में से गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट 9 मई को श्रद्धालुओं के लिए खोले जाएंगे। गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष मुकेश सेमवाल ने बताया कि उच्च पर्वतीय इलाकों में...

11 मई को खुलेंगे बदरीनाथ मंदिर के कपाट

उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित विश्व विख्यात तीर्थस्थल बद्रीनाथ मंदिर के कपाट 11 मई 2016 को सुबह चार बजकर 30 मिनट पर श्रद्धालुओं के लिये खोल दिए जाएंगे। शुक्रवार को बदरी केदार मंदिर समिति के सदस्यों की मौजूदगी में...

अब मोबाइल पर मिलेगा चारधाम यात्रा की पूरी जानकारी

उत्तराखंड पर्यटन विभाग चार धाम यात्रा को प्रमोट करने और श्रद्धालुओं की सुविधा लिए नई योजना तैयार कर रहा है। ये योजना जमीन पर उतरी तो चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं को काफी मदद मिलेगी। योजना के तहत...

यमुनोत्री | यहीं से शुरु होती है चार धाम यात्रा

पुराणों में यमुनोत्री का विशेष महत्व है। असित मुनि की निवास स्थली यमुनोत्री धाम 3235 मी० की ऊंचाई पर स्थित है। चार धाम की यात्रा में सर्वप्रथम यमुनोत्री के ही दर्शन किये जाते हैं। यमुनोत्री में एक ओर यमुना...

गंगोत्री | मां गंगा का उद्गम स्थल

विश्व की प्राचीनतम संस्कृतियों में से एक है भारतीय संस्कृति। इस संस्कृति के आरंभ से लेकर वर्तमान तक जितने भी परिवर्तन हुए हैं उन सब की साक्षी है गंगा। ये वही गंगा है जिसे लोग भागीरथी, मंदाकिनी, सुरसरिता, देवनदी...

बदरीनाथ | दर्शन मात्र से ही मनुष्य को प्राप्त होता है मोक्ष

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट ब्यूरो) बदरीनाथ धाम को भारत के चार पवित्रों धामों में सबसे प्राचीन बताया गया है। सतयुग, द्वापर, त्रेता और कलियुग इन चार युगों की शास्त्रों में जो महिमा कही गयी है उसके अनुसार उत्तर में सतयुग का बदरीनाथ,...