Home मेरा उत्तराखंड

मेरा उत्तराखंड

केदारनाथ | 12 ज्योर्तिलिंगों में श्रेष्ठ केदारनाथ में साक्षात शिव निवास करते हैं

केदारनाथ (उत्तराखंड पोस्ट ब्यूरो) बारह ज्योर्तिलिंगों में श्रेष्ठ केदारनाथ में साक्षात शिव निवास करते हैं। केदार उन अनगढ़ शिलाओं और शिखरों को भी कहते हैं...

उत्तराखंड | जानिए अपने लोक नृत्य को : छोलिया मतलब छल !

देहरादून  छोलिया, कुमाऊं का प्रसिद्ध परम्परागत लोक नृत्य है जिसका इतिहास सैकड़ों-हजारों वर्ष पुराना है। पुराने वक्त से ही छोलिया नृत्य उत्तराखंड की सांस्कृतिक पहचान...

भगवान बदरीनाथ की महिमा | दर्शन मात्र से ही मनुष्य मोक्ष को प्राप्त होता है

बदरीनाथ धाम को भारत के चार पवित्रों धामों में सबसे प्राचीन बताया गया है। सतयुग, द्वापर, त्रेता और कलियुग इन चार युगों की शास्त्रों...

ज़ायका उत्तराखंड का : स्वादिष्ट भट्ट की चुड़कानी बनाएं

हल्द्वानी (नैनीताल)  जितनी खूबसूरत उत्तराखंड की पहाड़ियां है उतना ही स्वादिष्ट है पहाड़ी खाना। भट्ट की चुड़कानी भी ऐसी ही एक प्रसिद्ध पहाड़ी रेसिपी...

विश्व धरोहर ‘फूलों की घाटी’ में इस साल पहुंचे रिकार्ड पर्यटक

चमोली जिले में स्थित विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी का दीदार पर्यटक सिर्फ 31 अक्टूबर तक की कर सकेंगे। 31 अक्टूबर को फूलों की...

ज़ायका उत्तराखंड का : ऐसे तैयार होता है स्वादिष्ट ‘सिंगल’

देहरादून  उत्तराखंड के कुमाऊं का पारंपरिक व्‍यंजन है सिंगल। वैसे तो इसे आप कभी भी बना सकते हैं पर दीवाली और होली जैसे त्‍योहारों पर...

उत्तराखंड के मेले, जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए

उत्तराखंड में साल भर अलग-अलग उत्सव और मेले का आयोजन होता रहता है। इन मेलों में उत्तराखंड की संस्कृति के विभिन्न रंग देखने के...

हमारी संस्कृति | सौभाग्य का प्रतीक है ‘पिछौड़ा’, जानिए महत्व

देहरादून पिछौड़ा बेहद सादगी भरा लेकिन खूबसूरत परिधान है जिसे उत्तराखंड में सुहागिन स्त्रियां पहनती हैं। ये दुपट्टा या एक ओढ़नी की तरह...

ज़ायका उत्तराखंड का : आलू के गुटके

आलू के गुटके एक पारंपरिक कुमाऊंनी रेसिपी है जो बनाने में बेहद आसान है। मजेदार बात यह है कि इसे बनाने के लिए आपको...

‘काले कौवा काले, घुघुति माला खा ले’, इसलिए मनाया जाता है “घुघुतिया” त्यौहार

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) 'काले कौवा काले घुघुति माला खा ले'..उत्तराखंड के कुमाउं में मकर संक्रान्ति के दिन ये आवाज़ हर घर से आती सुनाई...

साहसिक पर्यटन | ट्रैक ऑफ द इयर चांईशील-2017 का होगा आयोजन

देहरादून पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज की पहल पर प्रदेश में साहसिक पर्यटन की अपार संभावनाओं के दृष्टिगत माउण्टेन बाइकिंग रैली (एम.टी.बी.-2017) के सफल...

ज़ायका उत्तराखंड का : ऐसे तैयार होती है आपकी मनपसंद ‘बाल मिठाई’

अल्मोड़ा  कुमाऊं का सांस्कृतिक शहर अल्मोड़ा तीनों चीजों के लिए जाना जाता है। ये हैं - बाल (बाल मिठाई), माल (माल रोड) और पटाल...