किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने की कोशिश कर रही है सरकार: त्रिवेंद्र

हरिद्वार (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत एवं केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने जिला सहकारी बैंक हरिद्वार के शताब्दी वर्ष समारोह में प्रतिभाग किया। अपने संबोधन में जिला सहकारी बैंक हरिद्वार के शताब्दी वर्ष समारोह के अवसर पर बधाई देते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने हेतु लगातार प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने गन्ना किसानों का 100 परसेंट पेमेंट किया है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने खांडसारी उद्योग का लाइसेंस देना शुरू किया है।मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार गुड़ के उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए सरकार कार्य कर रही है। गन्ने से इथेनॉल बनाने पर बल दिया जा रहा है। सरकार की योजनाएं  किसानों तक पहुंच सकें इसके लिए किसानों को जागरूक होना आवश्यक है। उन्हें प्राकृतिक खेती को अपनाते हुए, बढ़ावा देना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के किसानों के लिए जीरो बजट खेती फायदेमंद हो सकती है

उन्होंने कहा कि किसान नई तकनीक का इस्तेमाल से एवं खेती की लागत कम करके अपनी आय दोगुनी कर सकते हैं।सहकारी बैंक के शताब्दी वर्ष की बधाई देते हुए केंद्रीय मंत्री तोमर ने कहा कि किसी भी संस्था के सौ वर्ष का सफर बहुत महत्वपूर्ण होता है। यह बहुत प्रसन्नता की बात है। यह  वरिष्ठ बैंक है। इसे सबके लिए आदर्श होना चाहिए। यह बैंक मार्गदर्शन का कार्य कर सकता है। मुख्यमंत्री एवं सहकारिता मंत्री के नेतृत्व में काफी अच्छा कार्य हुआ है।

उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूहों, गरीबी उन्मूलन और किसानों की आय दोगुनी करने के क्षेत्र में भी अच्छा कार्य हुआ। प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने गरीब और संपन्न वर्ग के बीच की खाई को कम करने का काम किया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राज्य के विकास के लिए कृषि क्षेत्र को मजबूती देने होगी। गावों के विकास के लिए लगातार कार्य किया जा रहा है। स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से देश की मातृ शक्ति को मजबूत बनाने का कार्य किया जा रहा है। शौचालय का निर्माण, प्रत्येक घर में गैस कनेक्शन और अपना मकान भारत सरकार सुनिश्चित करने जा रही है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने स्वयं सहायता समूहों को 5 लाख तक का बिना ब्याज का ऋण देकर देश के अन्य राज्यों के लिए आदर्श का कार्य किया है। उत्तराखंड के गावों में जैविक खेती और गावों के विकास के लिए खर्च किया जाएगा।

उत्तराखंड के ओर्गेनिक उत्पाद देश विदेश में एक्सपोर्ट किया जा सके। शीघ्र ही किसान उड़ान योजना और किसान एक्सप्रेस योजना के अन्तर्गत मालवाहक विमान व ट्रेन शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के विकास के लिए नए नए काम करने की कोशिश कर रही है।इस अवसर पर विभिन्न महिला स्वयं सहायता समूहों को 5 लाख के ऋण के चैक वितरित किए गए।कैबिनेट मंत्री अरविन्द पांडेय, मदन कौशिक, राज्य मंत्री धन सिंह रावत, विधायक आदेश चौहान, प्रदीप बत्रा,संजय गुप्ता एवं देशराज कर्णवाल भी उपस्थित थे।

youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                                

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost