नैनीताल | मुश्किल रास्ते से छोटा कैलाश पहुंचे डीएम ने श्रद्धालुओं के लिए ऐसे आसान किया सफर

नैनीताल (उत्तराखंड पोस्ट)  विकास खण्ड भीमताल का दुर्गम इलाका उड़वा छोटा कैलाश दर्शनीय एवं पर्यटक स्थल होने के साथ ही धार्मिक आस्था का भी प्रतीक है। उड़वा होकर छोटा कैलाश मन्दिर तक जाने वाला मार्ग बेहद दुर्गम एवं दुशवारियों से भरा हुआ है।

चुनौतियों  से रूबरू होना युवा जिलाधिकारी सविन बंसल की फितरत है इसलिए जनपद के जिलाधिकारी बनने के बाद उन्होने दुर्गम इलाकों मे बहुउददेशीय शिविर लगाकर जहां जनता का दुख-दर्द जानने की कोशिश की है वही दुर्गम इलाकों मे रह रहे लोगों की कठिनाईयों का अध्ययन भी कर रहे है।

बीते नवम्बर महीने मे जिलाधिकारी बंसल ने उड़वा गांव मे बहुउददेशीय शिविर लगाया, इस गांव तक पहुचने के लिए उन्होने आदि छोटा कैलाश का दुर्गम रास्ता चुना। इसी रास्ते से बडी ंसंख्या मे पर्यटक और गांव के लोग आते-जाते रहते हैं। इस रास्ते से गुजरते समय जिलाधिकारी बंसल चोटिल भी हो गये थे, चोट लगने के बावजूद भी जिलाधिकारी ने उड़वा गांव पहुंचकर ही दम लिया और गांव की समस्यायें सुनी।

जनसमस्याओं के प्रति संवेदनशील जिलाधिकारी ने वन संचार साधन भीमताल के छोटा कैलाश शक्ति स्थल तक पहुच मार्ग निर्माण के लिए 10 लाख की धनराशि जिला योजना से स्वीकृत की है।

बंसल ने बताया कि इस दुर्गम मार्ग का निर्माण जिला पंचायत द्वारा किया जायेगा। इस मार्ग के निर्माण होने से ग्रामवासियों एवं पर्यटकों को छोटा कैलाश तक आने-जाने मे सुविधा होगी।