जानिए क्यों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ही मांगा किशोर उपाध्याय का इस्तीफा ?

विधाशसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद पार्टी में सबकुछ ठीक नहीं है। शनिवार को चंपावत में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय पर कार्यकर्ताओं ने पार्टी को तोड़ने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी कर उनके इस्तीफे की मांग कर डाली।

दरअसल शनिवार को पर्यटन आवास गृह में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय की कार्यकर्ताओं के साथ बैठक थी। बैठक से पहले पत्रकार वार्ता हुई। इसमें कुछ देर होने पर प्रदेश अध्यक्ष समय का हवाला देते हुए वहां से जाने लगे। इसी बीच कार्यकर्ताओं ने उनसे बातचीत करने का आग्रह किया। जिस पर किशोर उपाध्याय ने कहा कि अभी यहां समय नहीं है बाद में बात करेंगे। उनका इतना कहना था कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं का पारा सातवें आसमान में चढ़ गया। उन्होंने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। उन्होंने कहा कि जो संगठन को नहीं जोड़ सकता उसे इस्तीफा दे देना चाहिए।

आक्रोशित कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि चुनाव के दौरान प्रदेश अध्यक्ष उपाध्याय यहां नहीं आए। अब आए है तो वह कार्यकर्ताओं को जोड़ नहीं, बल्कि तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। हार के कारणों तक की समीक्षा नहीं की जा रही है। ऐसे में कैसे पार्टी को दोबारा खड़ा किया जाएगा।

प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय इस्तीफा दो के नारे लग रहे थे तो उन्होंने कहा कि मीडिया देख रही है। यह क्या कर रहे हो। क्या मीडिया में दिखने के लिए ऐसा कर रहे हो, सबसे बात की जाएगी।