उत्तराखंड में इतनी है बेरोजगारों की संख्या, सरकार का ये सुविधा देने से साफ इंकार

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में दिसंबर 2019 तक सात लाख 69 हजार 77 शिक्षित बेरोजगार पंजीकृत हैं। वहीं तीन साल में राज्य सरकार ने रोजगार मेलों के माध्यम 15136 युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया। साथ ही सरकार ने साफ किया कि प्रदेश में बेरोजगारों को रोजगार भत्ता देने का कोई विचार नहीं है।

प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री डॉ.हरक सिंह रावत ने बजट सत्र के दौरान निर्दलीय विधायक प्रीतम सिंह पंवार के प्रश्न के जवाब में ये जानकारी सदन को दी।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत दिसंबर 2017 से आज की तिथि तक 22630 युवाओं को 69 विभिन्न पाठयक्रमों में प्रशिक्षित किया गया। इनमें से 9699 युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए।

कुमाऊं में 330,493 पंजीकृत बेरोजगार हैं

  • अल्मोड़ा में 61526, नैनीताल में 90119, पिथौरागढ़ में 49710, यूएसनगर में 77916, बागेश्वर में 27787 और चंपावत 23435 पंजीकृत बेरोजगार हैं।

गढ़वाल में 438584 पंजीकृत बेरोजगार

  • देहरादून में 107264, टिहरी में 79553, उत्तरकाशी में 46798, हरिद्वार में 82016, पौड़ी में 60741, चमोली में 40312 और रुद्रप्रयाग में 21900 पंजीकृत बेरोजगार हैं।

Youtube  http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                                

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost