शहादत का कोई मोल नहीं लेकिन एक बार ये काम करके देखिए, अच्छा लगेगा

388

देहरादून [उत्तराखंड पोस्ट ब्यूरो] देश की सीमाओं और आंतरिक सुरक्षा में तैनात केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल और अर्ध सैनिक बलों के जवानों की शहादत का कोई मोल नहीं है। लेकिन इन शहीद जवानों के परिजनों के परिवार बिना किसी तकलीफ के अपना जीवन यापन कर सकें इसके लिए आप भी उनकी मदद कर सकते हैं। भारत के वीर डॉट कॉम (bharatkeveer.gov.in) नाम की वेबसाइट के जरिए आप सीधे शहीद परिजनों के खाते में आर्थिक मदद भेज सकते हैं।

गौरतलब है कि गृह मंत्रालय ने बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार के सुझाव पर यह वेबसाइट और ऐप तैयार किया है। अक्षय ने सरकार को सलाह दी थी कि सीमा या आंतरिक सुरक्षा में तैनाती के दौरान शहीद हुए सशस्त्र बल के जवानों का ऑनलाइन ब्योरा सार्वजनिक होना चाहिए ताकि कोई भी व्यक्ति शहीद जवान के परिवार को मदद मुहैया करा सके।


bharatkeveer.gov.in  वेबपोर्टल और मोबाइल एप पर शहीद जवानों की सूची और उनके परिजनों संपर्क कायम करने की पूरी जानकारी मौजूद है। इसमें शहीद के किसी एक परिजन का बैंक खाता नंबर भी शामिल होगा जिससे कोई भी दानदाता बैंक खाते में सीधे राशि जमा करा सके। वेबसाइट पर शहीद हुए सैनिक की शहादत से जुड़े अभियान की जानकारी भी दर्ज होगी।

किसी भी शहीद के परिजन के बैंक खाते में सहायता राशि जमा कराने की अधिकतम सीमा 15 लाख रुपए तय की गई है। यह सीमा पूरी होते ही संबद्ध शहीद के परिजनों की जानकारी वेबसाइट से स्वत: हट जाएगी। अधिकारी के मुताबिक सैन्य अभियानों में गंभीर रूप से घायल हुए जवानों की भी वेबसाइट पर जानकारी मुहैया कराने की योजना है।

(उत्तराखंड पोस्ट के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं, आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)