लोकसभा चुनाव | आयोग ने गृह जिलों में तैनात अधिकारियों के तबादले के दिए आदेश

747

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) चुनाव आयोग ने आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियां तेज कर दी हैं। आयोग ने सभी राज्य सरकारों को अपने गृह जिलों में तैनात और पिछले चार साल में एक ही जिले में तीन साल से तैनात अधिकारियों के तबादले का निर्देश दिया है।

चुनाव आयोग ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और मुख्य चुनाव अधिकारियों को इस संदर्भ में 16 जनवरी को पत्र लिखा है।

आपको बता दें कि अधिकारियों के तबादले संबंधी निर्देश जारी करना सामान्य है। चुनाव आयोग लोकसभा या विधानसभा चुनावों से ठीक पहले ऐसे निर्देश जारी करता रहता है ताकि चुनावी प्रक्रिया में किसी तरह की दखलंदाजी नहीं हो सके और चुनाव पूरी तरह से निष्पक्ष और स्वतंत्र ढंग से कराए जा सकें।

आयोग ने साफ किया है कि यद्यपि चुनावी कार्य के लिए बड़ी संख्या में कर्मचारियों की तैनाती की जाएगी लेकिन वह राज्य मशीनरी को बड़े पैमाने पर इधर से उधर नहीं करना चाहता है। इसमें कहा गया है कि जो लोग सीधे तौर पर चुनाव से जुड़े नहीं है, तबादला निर्देश उन पर लागू नहीं होंगे।

आयोग ने पत्र में स्पष्ट कहा है कि पिछले किसी भी चुनाव के दौरान जिन अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश उसने की थी, उन्हें चुनाव संबंधी कोई भी जिम्मेदारी नहीं सौंपी जानी चाहिए। इसी तरह से जिनके खिलाफ अदालतों में आपराधिक मामले लंबित हैं, उन्हें भी चुनाव कार्यों से बाहर रखा जाए।

आयोग ने लोकसभा के साथ ही आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम विधानसभा चुनाव कराने के संकेत दिए हैं। 16वीं लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को खत्म हो रहा है जबकि आंध्र, अरुणाचल, ओडिशा और सिक्किम विधानसभा का कार्यकाल क्रमश: 18 जून, 1 जून, 11 जून और 27 मई को पूरा हो रहा है।

Follow us on twitter – https://twitter.com/uttarakhandpost

Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/