World Cup | मैच भी टाई, सुपर ओवर भी टाई, तो फिर कैसे जीत गया इंग्लैंड? जानें ICC का यह नियम

768

लॉर्ड्स (उत्तराखंड पोस्ट) वर्ल्डकप 2019 का फाइनल रोमांच से भरपूर था। खासकर सुपरओवर ने तो दुनियाभर की सांसे रोक दी थी।

न्यूज़ीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करके 241 रन बनाए और इंग्लैंड को वर्ल्ड चैंपियन बनने के लिए 242 रनों की जरूरत थी। लेकिन इंग्लैंड भी 50 ओवर में मात्र 241 रन ही बना सका और मैच टाई हो गया। इस टाई मैच का नतीजा निकालने के लिए सुपर ओवर हुआ, जिसमें इंग्लैंड ने 15 रन बनाए और बाद में न्यूज़ीलैंड भी सिर्फ 15 रन ही बना पाया। इसलिए मैच यहां भी टाई हो गया। लेकिन इंग्लैंड वर्ल्ड चैंपियन बन गया और न्यूजीलैंड के लाखों क्रिकेट फैंस का दिल टूट गया। स्कोर टाई होने पर भी इंग्लैंड जीत गया यह देखकर हर किसी के मन में तरह-तरह के सवाल उठने लगे।

दरअसल, जब कोई भी नतीजा नहीं निकला तो ‘किसकी बाउंड्री ज्यादा’ के आधार पर मैच का नतीजा निकला. और इसी आधार पर इंग्लैंड वर्ल्डकप जीत गया। इंग्लैंड ने अपनी पारी में कुल 26 बाउंड्री लगाई और न्यूजीलैंड ने कुल 17 बाउंड्री लगाई।

इंग्लैंड की पारी में कुल बाउंड्री

22 चौके, 2 छक्के

2 चौके (सुपर ओवर में)

न्यूजीलैंड की पारी में कुल बाउंड्री

14 चौके, 2 छक्के

1 छक्का (सुपर ओवर में)

ICC का नियम- दरअसल, आईसीसी के नियम के अनुसार अगर मैच टाई होता है तो उसके लिए सुपर ओवर खेला जाता है। और अगर सुपर ओवर भी टाई हो जाता है जो फाइनल में हुआ। तो फिर बाउंड्री के आधार पर फैसला निकलता है, यानी जिसकी बाउंड्री ज्यादा वही विजेता. इसमें पूरी पारी के साथ-साथ सुपर ओवर की बाउंड्री भी गिनी जाती हैं। इसी आधार पर रविवार को इंग्लैंड विजेता बना।

Youtube Videos– http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Follow Twitter Handle– https://twitter.com/uttarakhandpost                              

Like Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost