नैनीताल | 21 टन LPG गैस से भरे टैंकर के केबिन में लगी आग, लोगों की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

165

हल्दूचौड़ (नैनीताल) (उत्तराखंड पोस्ट) नैनीताल में मोटाहल्दू स्थित इंडियन गैस बॉटलिंग प्लांट के बाहर हाईवे किनारे खड़े 21 टन गैस से भरे कैप्सूल टैंकर में रविवार रात साढ़े तीन बजे आग लगने हड़कंप मच गया।

हालांकि ग्रामीणों की सूझबूझ से समय रहते आग पर काबू पा लिया गया जिससे बड़ा हादसा टल गया। आग लगने से कैप्सूल का केबिन जलकर नष्ट हो गया। फिलहाल आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है। जानकारी के मुताबिक प्लांट के समाने कुकिंग गैस से भरा टैंकर खड़ा था। चालक केबिन में सोया हुआ था। अचानक तेज गंध आने पर नींद टूटी तो आग लगी देख हक्का बक्का रह गया। उसने इसकी सूचना इंडेन गैस बाटलिंग प्लांट के गेट पर दी गई।

करीब चार बजे प्लांट से अचानक खतरे का सायरन बजने लगा। सायरन सुनकर सुरक्षा कर्मियों के साथ आस पास के ग्रामीण पहुंच गए। तब तक केबिन ने लपटें पकड़ ली थी। आधे घंटे के प्रयास के बाद आग पर काबू पा लिया गया। प्लांट से गैस सिलेंडर से भरे एक दर्जन ट्रक पेट्रोल पंप और हाईवे पर खड़े थे। प्लांट के अंदर तीन बुलेट गैस टैंक स्थापित हैं। वे गैस से भरे हुए थे। एक टैंक में लगभग 60 से 70 टन के करीब गैस आती है। यानी तीनों टैंकरों में लगभग 190 टन गैस थी। स्टोर के अलावा हजारों की गैस के सिलेंडर भरे रहते हैं।

DEMO PIC

लोगों का कहना है कि हादसा चालक की लापरवाही से हुआ है। ग्रामीणों का कहना है कि गैस भरे टैंकर चालक रात में नशे में रहते हैं। अपने टैंकरों को हाईवे पर ही पार्क कर देते हैं। केबिन में मच्छरों से बचने के लिए कॉईल जलाकर सो जाते हैं।

मारा youtube  चैनल Subscribe करें- http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

हमें ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/