उत्तराखंड के पहाड़ी जिलों के लिए आई है अच्छी ख़बर

उत्तराखंड के दुरूह भूगोल के मिजाज को ध्यान में रखते हुए राज्य की भाजपा सरकार एक बड़ा फैसला लेने जा रही है। राज्य के दूरस्थ इलाके के मरीजों को आपात स्थिति और समय पर सुविधा संपन्न अस्पताल पहुंचाने के लिए सरकार 108 सेवा की तरह ही एयर एंबुलेंस सेवा शुरू करने जा रही है। अब ख़बरें एक क्लिक पर इस लिंक पर क्लिक कर Download करें Mobile App – उत्तराखंड पोस्ट

जल्द ही टीएसआर कैबिनेट में इसका प्रस्ताव आएगा। वहीं सरकार बजट में भी इसका प्रवाधान करने वाली है। दरअसल एयर एंबुलेंस की एक घंटे की उड़ान में 80 हजार रुपए का खर्च आएगा।

वैसे भी सूबे के पहाड़ी जिलों में अस्पतालों की माली हालत को देखते हुए भाजपा ने अपने विजन डॉक्यूमेंट में एयर एंबुलेंस सेवा देने का वादा किया था। वैसे भी अपनी दूसरी कैबिनेट में घरेलू सेवा देने वाली हवाई सेवाओं को भाजपा सरकार एटीएफ (एयर टरबाइन फ्यूल) पर वैट की भारी छूट दे चुकी है।

एयर एंबुलेंस सेवा देने की बात अपने कार्यकाल में सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री डा. निशंक ने भी की थी लेकिन वो अपने प्रस्ताव पर अमल करने से पहले ही उनकी छुट्टी हो गई थी।
अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश की माने तो जल्द ही राज्य के दूर दराज के बीमार मराजों को समय पर अस्पताल पहुंचाने के लिए सरकार एयर एंबुलेंस सेवा की सौगात देने वाली है।

सभी जनपदों के लिए प्रभारी मंत्री नियुक्त, जानिए किसे मिला कहां का प्रभार ?