अच्छी ख़बर | पक्के होंगे अस्थाई कर्मचारी, कैबिनेट का फैसला

राज्य में दैनिक वेतनभोगी, कार्यप्रभारित, नियत वेतन व संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण की राह और आसान हो गई है। राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में कार्मिक महकमे की संशोधित नियमितीकरण नियमावली को मंजूरी दी। संशोधित नियमावली के मुताबिक 31 दिसंबर, 2011 तक सेवा में लगे उक्त कर्मचारियों को पांच साल की सेवा पर नियमित किया जा
 

राज्य में दैनिक वेतनभोगी, कार्यप्रभारित, नियत वेतन व संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण की राह और आसान हो गई है।

राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में कार्मिक महकमे की संशोधित नियमितीकरण नियमावली को मंजूरी दी।  संशोधित नियमावली के मुताबिक 31 दिसंबर, 2011 तक सेवा में लगे उक्त कर्मचारियों को पांच साल की सेवा पर नियमित किया जा सकेगा। इससे करीब सात हजार कर्मचारियों को फायदा होगा।

मंत्रिमंडल ने नियमितीकरण के लिए पांच साल की अवधि में कमी नहीं की है। यानी इन कर्मचारियों के नियमितीकरण की कार्यवाही अब अगली सरकार ही कर सकेगी।

पढ़ें- हरीश रावत कैबिनेट के फैसलों पर चुनावी मौसम का रंग, पढ़ें पूरे फैसले

From around the web