बजट को लेकर केन्द्रीय वित्त मंत्री से मिले हरीश रावत

IMG_20160701_210114उत्तराखंड के बजट को दोबारा से 4-5 जुलाई को विधानसभा के विशेष सत्र में रखने से पहले मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आखिरी कवायद करते हुए दिल्ली में केंन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की। जानकारी के अनुसार के राज्य सरकार का पूर्ण बजट अवमुक्त कराने के संबंध में मुख्यमंत्री ने केंद्रीय वित्त मंत्री से चर्चा की। मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश की वित्त मंत्री इंदिरा हृद्येश और मुख्य सचिव शत्रुघन सिंह भी थे।
गौरतलब है कि 18 मार्च को उत्तराखंड विधानसभा में विनियोग विधेयक पारित करने के हरीश रावत सरकार ने दावा तो किया था लेकिन उसे राज्यपाल से मंजूरी नहीं मिली। जिसके बाद केंद्रीय कैबिनेट ने उत्तराखंड में वित्तिय संकट से निपटने के लिए अध्याधेश को मंजूरी दी थी। कोर्ट के फैसले के बाद हरीश रावत सरकार विश्वास मत हासिल कर दोबारा से बहाल तो हो गई लेकिन बजट का संकट राज्य सरकार के सामने खड़ा हुआ है।
इस संकट से निपटने के लिए ही हरीश रावत ने प्रधानमंत्री को तक पत्र लिखा और आखिरकार रावत कैबिनेट ने 4-5 जुलाई को उत्तराखंड विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर दोबारा से बजट पारित करने का फैसला लिया था। लेकिन इससे पहले हरीश रावत अरुण जेटली से मिलकर एक आखिरी कोशश की।