त्रिवेंद्र सरकार के फैसले पर हरीश रावत का सवाल, कहा- नहीं चाहते गैरसैंण में बने राजधानी!

104

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गैरसैंण में जमीन खरीदने पर लगी रोक हटाने के त्रिवेंद्र सरकार के फैसले पर सवाल उठाए हैं। हरीश रावत ने कहा कि त्रिवेंद्र सरकार का ये फैसला गैरसैंण में प्रदेश की राजधानी बनाने के सपने पर बड़ा कुठाराघात है।

हरीश रावत ने कहा कि पहले आपने उत्तर प्रदेश जमींदारी कानून में अनावश्यक संशोधन कर उत्तराखंडी जमीनों के बिक्री का रास्ता खोल दिया, अंधाधुंध बिक्री का रास्ता खोल दिया। हमने उत्तराखंड की भविष्य की राजधानी के भूमि को बचाने के लिये जो प्रतिबंध लगाया था शायद आपका विचार ये है कि जब जमीन बचेगी ही नहीं वहाँ तो फिर ये राजधानी का मामला भी खत्म हो जायेगा।

रावत ने आगे कहा कि आपके इस निर्णय से अगले एक-दो वर्षों में खोजे भी जमीन का टुकड़ा गैरसैंण में नहीं मिल पायेगा। इससे भराड़ीसैंण टाउनशिप और #भराड़ीसैंण में राजधानी निर्माण का सपना टूट जायेगा।

वीडियो देखने के लिए Youtube  चैनल Subscribe करें– http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost                 

फेसबुक पेज लाइक करें– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost