‘काफल’ पार्टी देना चाहते हैं हरीश रावत, चुनाव आयोग से नहीं मिल रही परमिशन

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व नैनीताल संसदीय सीट से कांग्रेस उम्मीदवार हरीश रावत का कहना है कि वे काफल प्रेमियों को काफल पार्टी देना चाहते हैं लेकिन चुनाव आयोग से इसकी अनुमति उन्हें अभी तक नहीं मिली है।

हरीश रावत ने कहा कि काफल का समय है, हल्द्वानी, देहरादून से लेकर दिल्ली, चंडीगढ़ तक हमारे दोस्त #काफल की दावत का इंतजार कर रहे हैं। और हमारे #काफल_चैप्टर से जुड़े हुये लोग भी बहुत बेताब हैं काफल पार्टी देने के लिए। क्या करें, चुनाव आयोग से परमिशन मांग रहे हैं, वो परमिशन नहीं दे रहे हैं और बिना चुनाव आयोग के परमिशन के आयोजन हो नहीं सकता है।

हरीश रावत आगे कहते हैं कि यदि इस बार काफल पार्टी नहीं दे पाया तो काफल प्रेमी लोगों से और काफल से भी मैं क्षमा चाहूंगा और फिर अगले साल फिर देखेंगे। अब तो केवल आम, ककड़ी पार्टी के लिए जब आम और ककड़ी का सीजन प्रारंभ होगा, तब मिलेंगे।

उत्तराखंड | क्या आपको पता है काफल की ये कहानी ? देखिए वीडियो

हमारा Youtube  चैनल Subscribe करेंhttp://www.youtub.com/c/UttarakhandPost 

हमें ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/