गुरुवार को है करवाचौथ, 70 साल बाद बन रहा ऐसा संयोग

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) कार्तिक मास की चतुर्थी को मनाया जाने वाला करवाचौथ इस बार 17 अक्तूबर को गुरुवार के दिन पड़ रहा है। करवा माता की पूजा के लिए 1 घंटे 16 मिनट का ही समय मिलेगा।।

इस दिन अगर सुहागिन स्त्रियां उपवास रखें तो उनके पति की उम्र लंबी होती है और उनका गृहस्थ जीवन सुखी रहता है। ये व्रत सूर्योदय से पहले शुरू होता है जिसे चांद निकलने तक रखा जाता है।

इस बार करवाचौथ पर विशेष संयोग भी बन रहा है।70 साल बाद करवा चौथ पर इस बार शुभ संयोग बन रहा है। इस बार रोहिणी नक्षत्र के साथ मंगल का योग होना करवा चौथ को अधिक मंगलकारी बना रहा है।जो महिलाएं पहली बार इस व्रत को रखेंगी उनके लिए ये दिन और भी विशेष है।

17 अक्तूबर को सुबह 6.48 बजे चतुर्थी शुरू होगी, जो अगली सुबह 7.29 तक रहेगी।

पूजा का मुहूर्त शाम : 5:50 से 7:06

करवा चौथ व्रत समय: सुबह 6:21 से रात 8:18 बजे तक

उपवास का समय : 13 घंटे, 56 मिनट है।

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost