काठगोदाम रेलवे स्टेशन के नाम होगी बड़ी उपलब्धि, इस मामले में होगा उत्तराखंड का पहला रेलवे स्टेशन

840

हल्द्वानी (उत्तराखंड पोस्ट) काठगोदाम स्टेशन के नाम बड़ी उपलब्धि होने वाली है। काठगोदाम स्टेशन  उत्तराखंड का सोलर लाइट के भरोसे चलने वाला पहला रेलवे स्टेशन होगा। बता दें कि रेलवे देश के जिन चुनिंदा स्टेशनों पर बड़े सोलर प्लांट लगाने जा रहा है उनमें नैनीताल के काठगोदाम का नाम भी शामिल है।

काठगोदाम उत्तराखंड के पहाड़ों की जड़ों में बसा पूर्वोत्तर रेलवे का अंतिम रेलवे स्टेशन है। यह स्टेशन अब जल्द ही सोलर लाइट की रोशनी से जगमगाने लगेगा। रेलवे ने स्टेशन की छत पर बड़ा सोलर प्लांट लगाने का फैसला किया है। इसके बाद स्टेशन में फिलहाल जो काम-काज बिजली के जरिए हो रहे हैं वो आने वाले समय में सौर ऊर्जा से होंगे। रेलवे के अधिकारी मानते हैं कि सोलर प्लांट लगाने के लिए काठगोदाम स्टेशन सबसे मुफीद है। इसीलिए इसका चयन रेल मंत्रालय ने किया है।

जानकारी के मुताबिक रेलवे यहां 150 केवी और 50 केवी के दो प्लांट लगाएगा। इससे स्टेशन, यार्ड, और रेलवे कॉलोनी में बिजली की सप्लाई की जाएगी। काठगोदाम के स्टेशन मैनेजर चयन रॉय ने कहा कि मार्च तक कोठगोदाम स्टेशन पर सोलर पावर से बिजली सप्लाई शुरू करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए इंजीनियरिंग विभाग ने इसे छत पर लगाने की मंजूरी भी दे दी है। उन्होंने कहा कि काठगोदाम की विशेष बात है कि यहां पर्याप्त मात्रा में धूप रहती है। यहां जाड़े के दिनों में कोहरा नहीं पड़ता है।

Follow us on twitter – https://twitter.com/uttarakhandpost

Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/