उत्तराखंड में इस तरह होंगे लोकसभा चुनाव, निर्वाचन विभाग की है ये तैयारी

चमोली (उत्तराखंड पोस्ट) राज्य मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या एवं अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ.वी.षणमुगम ने शुक्रवार को चमोली पहुंचकर लोक सभा सामान्य निर्वाचन की तैयारियों का जायजा लेते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। लोक सभा चुनाव को शांतिपूर्ण, निष्पक्ष एवं निर्विवाद संपन्न करना हम सबकी जिम्मेदारी है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्वाचन ड्यूटी पर लगे कार्मिकों को निर्वाचन कार्यो का भंलीभांति प्रशिक्षण देने के निर्देश दिये ताकि मतदान के दिन किसी प्रकार की समस्या न हो। उन्होंने सभी सैक्टर मजिस्ट्रेट को भी ईवीएम व वीवीपैट मशीनों का भंलीभांति प्रशिक्षण देने को कहा ताकि मतदान के दिन किसी भी बूथ पर छोटी-छोटी समस्या को वे अपने स्तर से ठीक कर सके। सीईओ ने कहा कि निर्वाचन में पूरी पारदर्शिता बनी रहे, इसलिए ईवीएम का रेन्डामाइजेशन, कन्डीडेट सेटिंग एवं सीलिंग का कार्य राजनैतिक दलों की मौजूदगी एवं सीसीटीवी की निगरानी करना सुनिश्चित करें। जिस भी गाडी से ईवीएम का मूवमेंन्ट होता है, उस गाडी का जीपीएस से ट्रैकिंग करना सुनिश्चित किया जाय। पोलिंग पार्टियों को ईवीएम के साथ अपने पोलिंग स्टेशन या किसी सरकारी भवन में ही रात्रि में ठहरने के निर्देश दिये।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि इस लोक सभा चुनाव में पहली बार सभी मतदेय स्थलों पर ईवीएम के साथ वीवीपैट का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने सभी मतदान कार्मिकों को वीवीपैट की सेन्सटिविटी के बारे में भंलीभांति प्रशिक्षण देने, वीवीपैट को सावधानी से मतदेय स्थलों तक ले जाने तथा वीवीपैट को लाईट से दूर रखने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि मतदान के दिन हर 30 बूथ के लिए एक इंजीनियर्स भी दिया जाऐगा। हालांकि उन्होंने थराली उप निर्वाचन में वीवीपैट के अच्छी तरह से उपयोग करने पर जिला प्रशासन के कार्यो की सराहना करते हुए इस बार भी पूरी सावधानी से कार्य करने को कहा।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने सभी को 1950 पर कॉल कर मतदाता सूची में अपने नाम की जानकारी लेने को कहा, ताकि मतदान के दिन कोई समस्या न हो। मतदेय स्थल पर ईडीसी से वोट करने वाले मतदाताओं का अलग से विवरण रखते हुए मतदान के दिन प्रत्येक दो घण्टे में मतदान की सूचना उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टी में सुरक्षा बल सहित जितने भी कार्मिक जा रहे उन सभी का मोबाइल नम्बर अवश्य रखे। सभी पोलिंग पार्टियों को नवीनतम मतदाता सूची अपडेट करते हुए उपलब्ध करना सुनिश्चित करें।

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने लोक सभा चुनाव के लिए बूथ लेवल एक्शन प्लान तैयार करने तथा 10 प्रतिशत मतदेय स्थलों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मतदाता के पास एपिक न होने पर 11 अन्य प्रमाण पत्रों से भी वह मतदान कर सकता है, इन सभी प्रमाण पत्रों की जानकारी भी कार्मिकों दी जाय। उन्होंने कार्मिकों को मॉक पोल के बाद सीयू से डेटा क्लेयर करने, पोल समाप्ति के बाद क्लोज बटन दबाने आदि का भंलीभांति प्रशिक्षण देने तथा पोलिंग पार्टियों के लिए मूलभूत संविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को जिले में लोक सभा निर्वाचन के लिए की गई तैयारियों की जानकारी दी। उन्होंने कार्मिकों के प्रशिक्षण, पोलिंग पार्टियों के मूवमेंन्ट के लिए बनाये गये रूटचार्ट, मतदेय स्थल, शैडो एरिया, जीपीएस ट्रैकिंग आदि व्यवस्थाओं सहित स्वीप कार्यक्रम के तहत जिले में संचालित विभिन्न क्रियाकलापों की जानकारी दी। जिस पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने संतोष व्यक्त करते हुए जिला प्रशासन के कार्यो की सराहना की। पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने कहा कि मतदान के लिए सभी सुरक्षा प्रबन्धों की पुख्ता तैयारिया की गई है। शांतिपूर्ण और निष्पक्ष मतदान के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस और सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई है।

इस अवसर पर अपर जिला निर्वाचन अधिकारी हसांदत्त पांडे, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एमएस बर्निया, एआरओ बुशरा अंसारी, एआरओ थराली किशन सिंह नेगी, एआरओ कर्णप्रयाग देवानन्द शर्मा सहित सभी संबधित अधिकारी मौजूद थे।

मारा youtube  चैनल Subscribe करें- http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

हमें ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/