चारधाम | दूसरे पड़ाव फाटा पहुंची बाबा केदार की डो़ली

Captureशुक्रवार को बाबा केदारनाथ की पंचमुखी चल विग्रह डोली विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी से दूसरे पड़ाव फाटा पहुंच गई है। आज भगवान केदार की पंचमुखी डोली फाटा में ही रात्रि विश्राम करेगी। गुरुवार को पारंपरिक ढोल दमाऊ के साथ छह कुमाऊं रेजीमेंट की मधुर धुनों के बीच बारह ज्योतिर्लिंग में शामिल भगवान केदारनाथ की उत्सव डोली पंचगद्दीस्थल ओंकारे‌र्श्वर मंदिर ऊखीमठ से केदारपुरी के लिए रवाना हुई थी और गुरुवार शाम को विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी पहुंची थी। । डोली रवाना होने से पहले पंचकेदार गद्दी स्थल ऊखीमठ में केदारनाथ रावल भीमाशंकर लिंग और मुख्य पुजारी शिव शंकर लिंग की उपस्थिति में बाबा केदार की उत्सव डोली की पूजा अर्चना की गई।

अब शनिवार सुबह बाबा केदारनाथ की पंचमुखी चल विग्रह डोली फाटा से प्रस्थान कर गौरीकुंड के लिए रवाना होगी और गौरीकुंड में ही रात्रि विश्राम करेगी। गौरीकुंड में रात्रि विश्राम करने के बाद आठ मई को डोली केदारनाथ पहुंचेगी। नौ मई को लगभग साढ़े सात बजे वैदिक मंत्रोच्चारण एवं विधि-विधान से बाबा केदारनाथ के कपाट आम श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए जाएंगे।