इन नए सांसदों को कैंटीन में ही मिलेगा खाना, कमरे में मंगाने पर रोक

102

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) सरकारी आवास मिलने तक वेस्टर्न कोर्ट के नए बने हॉस्टल में ठहराए गए सांसदों के लिए कड़े निर्देश जारी किए गए हैं। निर्देश है कि न सांसद अपने कमरे में खाना बनवा सकते हैं और न ही कैंटीन से चाय-पानी मंगा सकते हैं। उन्हें वेस्टर्न कोर्ट एनेक्सी की कैंटीन में ही आना होगा। हां बीमार होने या विशेष परिस्थितियों में ही कैंटीन का स्टाफ रूम तक लंच-डिनर पहुंचाएगा।

एनेक्सी प्रबंधन ने इसको लेकर कैंटीन संचालक को भी निर्देश दिए हैं कि सांसदों के रौब में आकर उन्हें रूम में खाने-पीने का सामान न पहुंचाया जाए। वेस्टर्न कोर्ट की नई बिल्डिंग के रिसेप्शन पर एक नोटिस भी लगाया गया। जिसमें यहां ठहरने के चार्जेज के अलावा स्पष्ट तौर पर लिखा है- कमरों के अंदर खाना बनाना प्रतिबंधित है।

यह वही हॉस्टल है, जिसका पिछले साल चार अप्रैल 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्घाटन किया था। यहां पहली बार चुनकर आए सांसदों के रहने की अस्थाई व्यवस्था की गई है। सरकारी आवास मिलने के बाद ही सांसद यहां से हटेंगे। फिलहाल 82 नए सांसद वेस्टर्न कोर्ट के नए बने आलीशान भवन के कमरों में रह रहे हैं।

Youtube Videos– http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Follow Twitter Handle– https://twitter.com/uttarakhandpost                              

Like Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost