अच्छी ख़बर | जल्द होगी एक हजार शिक्षकों की नियुक्ति

CM Photo 03 dt. 13 February, 2016राज्य सरकार जल्द ही प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में एक हजार शिक्षकों की नियुक्ति करने जा रही है। पौड़ी में आदर्श प्राथमिक विद्यालयों के शुभारंभ के मौके पर मुख्यमंत्री ने ये बात कही। मुख्यमंत्री ने पौड़ी के नैनीडांडा में राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय ढंगलगांव, राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय पटोटिया, राजकीय आदर्श उच्च प्राथमिक विद्यालय मजेड़ा भरतपुर, राजकीय आदर्श इंटर कालेज धूमाकोट, राजकीय आदर्श इंटर कालेज पटोटिया का शुभारम्भ आदर्श विद्यालय विकास योजना के तहत किया। इस मौके पर सीएम रावत ने कहा कि प्रदेश में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए राज्य में मॉडल स्कूल बनाए जाएंगे। मॉडल स्कूलों में अंग्रेजी में शिक्षा दी जाएगी और सभी मॉडल स्कूल विद्यालय छात्रावास, पुरस्कालय, शौचालय आदि सुविधाओं से युक्त होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के दूरस्थ विद्यालयों में भी शिक्षक भेजे जा चुके हैं और हाईस्कूल व इंटर कालेजों में शिक्षकों की तैनाती कर दी गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्राथमिक विद्यालयों में 1000 शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी। रावत ने कहा कि पूर्व में राजकीयकरण किए गए विद्यालय जो वित्तीय स्वीकृति व पद सृजित न होने के कारण शिक्षकविहीन थे, ऐसे 80 विद्यालयों में शिक्षक तैनात करते हुए वित्तीय स्वीकृति की कार्यवाही पूर्ण कर ली है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि मूलभूत सुविधाओं का विकास करना मानवता का विकास है। उन्होंने कहा कि आज भी राज्य में करीब 40 लाख लोगों ऐसे हैं जिन्हें सहारे की जरूरत है और उन्हें राज्य सरकार द्वारा समाज कल्याण विभाग के माध्यम से विकलांग, वृद्धा, गौरादेवी कन्याधन योजना, शिल्पकार, बौना, विधवा, किसान, जागरी, पुरोहित, मंगल गीत गाने वाली महिलाओं आदि पेंशन योजनाओं से लाभान्वित किया जा रहा है।

स्थानीय लोगों की मांग पर मुख्यमंत्री ने नैनीडांडा-शंकरपुर मोटरमार्ग के डामरीकरण की स्वीकृति दी। साथ ही सल्ट महादेव आईटीआई का नाम राज्य आन्दोलनकारी सुमनलता भदौला के नाम पर किए जाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने मुस्याखांद में पॉलीटेक्निक खोले जाने की मांग पर तत्काल स्वीकृत देते हुए अगले वर्ष धनराशि भी उपलब्ध कराने की बात कही। इस मौके पर खाल्यूंडांडा-तोल्यूंडांडा सड़क की भी स्वीकृत दी गई। मुयमंत्री ने कोटनाली में बाढ़ नियंत्रण का कार्य जिला प्लान से किए जाने के निर्देश भी डीएम को दिए।