पायलट के एयरहोस्टेस से थे नाजायज रिश्ते, पत्नी से हुआ विवाद तो क्रैश किया विमान!

400

नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) चार साल पहले लापता हुए मलेशिया एयरलाइंस के विमान एमएच-370 की कोई खबर अब तक नहीं मिली है। आज भी विमान की तलाश की जा रही है। इस बीच मलेशिया के मीडिया हाउस द अटलांटिक की रिपोर्ट सामने आई है जिसमें यह दावा किया गया है कि कुआलालंपुर से बीजिंग जा रहे मलेशिया एयरलाइंस के विमान एमएच-370 के पायलट जाहिरी शाह ने जानबूझ कर प्लेन को क्रैश किया था।

आजतक की खबर के अनुसार रिपोर्ट में पायलट जाहिरी शाह के दोस्त ने दावा किया गया है कि जाहिरी शाह का पत्नी से विवाद चल रहा था, वो डिप्रेशन में थे, उनकी मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं थी इसलिए वो प्लेन को 40,000 फीट ऊंचाई पर ले गए जबकि मास्क 13 हजार फीट पर इमरजेंसी में ही काम आते हैं।

पायलट जाहिरी शाह ने को-पॉयलट को भी कॉक पिट से चतुराई से बाहर भेज दिया था। उनके दोस्त ने बताया कि जाहिरी शाह के कई क्रू मेंबरों के साथ अफेयर थे। यह बात उसकी पत्नी को भी पता थी इसलिए उनके बीच विवाद होता रहता था।

हादसे के दिन पायलट जाहिरी शाह का उनकी पत्नी से विवाद हुआ था। इसके बाद वो ड्यूटी पर आए थे। कंट्रोल रूम से संपर्क टूट जाने के बाद उन्होंने विमान की ऊंचाई बढ़ाई और वहां से विमान को सीधे हिंद महासागर में गिरा दिया।

द अटलांटिक की रिपोर्ट में विशेषज्ञ विलियम लैंगविशे ने बताया है कि हादसा शाह के परेशान निजी जीवन का परिणाम था। उन्होंने बताया कि रात को 1.10 बजे विमान अचानक लापता हो गया, उस वक्त विमान लगभग 35,000 फीट की ऊंचाई पर था।

फिर 1.21 बजे विमान रडार से गायब हो गया। वहीं, इलेक्ट्रिकल इंजीनियर माइक एक्सनर का कहना है कि विमान हवा में 40,000 फीट की ऊंचाई पर चढ़ गया जिससे केबिन में आक्सीजन की कमी हो गई और शायद वहां बैठे सभी यात्रियों की मौत हो गई थी।

हमारा Youtube  चैनल Subscribe करें– http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

हमें ट्विटर पर फॉलो करेंhttps://twitter.com/uttarakhandpost         

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost