स्मृतियों के कोलाज में बप्पा दादाजी (पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी)

305

भारतीय जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में

हा – हन्त ! दिग- दिगन्त …. !

‘बाप्पा दादाजी हम शर्मिंदा है, आपके हत्यारे अब भी जिंदा है. पचासवीं पुण्य तिथि ११ फरवरी २०१८ पर सम्पूर्ण परिवार की ओर से शत-शत भावांजलि. 

चंद्रशेखर उपाध्याय, देहरादून