उत्तरकाशी में आपदा पर एक्शन में सरकार, युद्ध स्तर पर राहत एवं बचाव कार्य करने के निर्देश

138

उत्तरकाशी (उत्तराखंड पोस्ट) सचिव आपदा अमित नेगी ने उत्तरकाशी जनपद में तहसील मोरी के अन्तर्गत आराकोट और उसके आस पास के क्षेत्र में बारिश एवं आपदा से प्रभावितों को जल्द से जल्द सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने व राहत सामग्री उपलब्ध कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने प्रत्येक प्रभावित गांव में राहत एवं बचाव टीम तैनात करने के भी निर्देश दिये हैं।

रविवार सायं राज्य आपातकालीन परिचालन केन्द्र में सचिव अमित नेगी ने उत्तरकाशी जनपद में अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों में हो रहे राहत एवं बचाव कार्यो की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

उन्होंने प्रभावित परिवारों को युद्धस्तर पर राहत एवं सहायता प्रदान करने के साथ ही उनके लिए टैंट, गैस सिलेंडर, बर्तन, रसोईया आदि उपलब्ध कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने प्रभावितों के लिए खाद्य सामग्री, पेयजल, लाईफ सपोर्ट दवाईयाँ एवं अन्य आवश्यक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिये अधिकारियों को निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि प्रभावितों के लिए किसी भी प्रकार की संसाधनों की कमी न होने दी जाए।

सचिव आपदा अमित नेगी ने बताया कि एसडीएम बड़कोट एवं एसओ मोरी आराकोट पहुंच चुके हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग नोटाघाट को खोल दिया गया है, पन्तनालू से एक जेसीबी आराकोट की तरफ भिजवा दी गई है। खोज एवं बचाव कार्य के लिए एस0डी0आर0एफ0 की दो टीम, एन0डी0आर0एफ0 की 12 सदस्यीय एक टीम, क्विक रिस्पांस टीम की एक टीम (05 सदस्य), सर्च एंड रेस्क्यू की दो टीम (कुल 10 सदस्य), पीएसी की एक प्लाटून, आईटीबीपी की 15 सदस्यीय टीम एवं पुरोला/बड़कोट की 16 सदस्य पुलिस दल राहत कार्य में लगा दी गई है। उन्होंने कहा कि राहत एवं बचाव कार्य के लिए आज प्रातः से ही हैलीकॉप्टरों द्वारा भी प्रयास किये गये परन्तु खराब मौसम के कारण हैलीकॉप्टरों की उड़ान सम्भव न हो सकी। कल प्रातः फिर से प्रयास किये जायेंगे। कल एक आर्मी हैलीकॉप्टर द्वारा भी राहत एवं बचाव कार्य किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सभी विभागों के अधिकारियों को मोबिलाइजेशन के लिए निर्देश दे दिये गये हैं। सचिव आपदा एवं आई0जी0 एसडीआरएफ द्वारा प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण भी किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि प्रभावित परिवारों को युद्धस्तर पर राहत एवं सहायता कार्य करते हुए टैंट, गैस सिलेंडर, बर्तन, रसोईया, खाद्य सामग्री, पेयजल, लाईफ सपोर्ट दवाईयाँ एवं अन्य आवश्यक चिकित्सा सुविधायें कल प्रातः 11 बजे तक प्रभावित क्षेत्रों में उपलब्ध करा दी जायेंगी।

इस अवसर पर प्रभारी सचिव आपदा प्रबन्धन एस ए मुरूगेशन, आईजी संजय गुंज्याल, जिलाधिकारी देहरादून सी रविशंकर, अधिशासी निदेशक, आपदा न्यूनीकरण एवं प्रबन्धन केन्द्र पीयूष रौतेला आदि उपस्थित थे।

उत्तरकाशी में बादल फटने से कैसा सैलाब आया इसका वीडियो नीचे लिंक पर क्लिक करके देखें-

youtube Videos– http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Follow Twitter Handle– https://twitter.com/uttarakhandpost                 

Like Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost