उत्तराखंड के बागेश्वर की सोनाली लाखों का पैकेज छोड़ कोस्ट गार्ड में बनी असिस्टेंट कमांडेंट

 बागेश्वर (उत्तराखंड पोस्ट) बागेश्वर जिले की सोनाली मनकोटी ने साॅफ्टवेयर इंजीनियर की लाखों के पैकेज वाली नौकरी छोड़कर इंडियन कोस्ट गार्ड में बतौर असिस्टेंट कमांडेंट शामिल हुईं हैं। सेना में उनके परिवार की सोनाली तीसरी पीढ़ी हैं।

बागेश्वर जिले के असोन मल्लकोट की सोनाली मनकोटी के दादा, पिता और चाचा सेना में रहे है ।सोनाली ने उन्हें देखकर बचपन से सेना में जाने का ख्वाब देखा और उसे साकार कर दिखाया।सोनाली ने इसी साल जून में भारतीय नौसेना एकेडमी ज्वॉइन की थी।

6 महीने की ट्रेनिंग के बाद 30 नवंबर को कमीशंड प्राप्त करके भारतीय कोस्ट गार्ड सेवा में बतौर असिटेंट कमांडेंट शामिल हुई हैं।कुमाऊं की पहली महिला अधिकारी हैं, जो भारतीय तटरक्षक सेवा में बतौर असिस्टेंट कमांडेंट शामिल हुईं हैं।

सोनाली कुमाऊं की पहली महिला अधिकारी हैं, जो भारतीय तटरक्षक सेवा में असिस्टेंट कमांडेंट शामिल हुईं हैं।सोनाली टाटा कंसल्टेंसी सर्विस गुड़गांव में सॉफ्टवेयर डेवलपर के रूप में कार्य कर रहीं थीं।

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                 

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost