31 दिसंबर है आखिरी तारीख, बंद हो जाएंगे आपके ATM और क्रेडिट कार्ड, करें ये काम

1572

देहरादून  (उत्तराखंड पोस्ट) अगर आप एटीएम (डेबिट) और क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करते हैं तो ये आपके काम की खबर है।

दरअसल एक जनवरी 2019 से पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर बैंक के सभी मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड अमान्य हो जाएंगे। इस वक्त देश में दो तरह के एटीएम इस्तेमाल में हैं। मैग्नेटिक स्ट्राइप वाला और चिप कार्ड वाला लेकिन मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड को सुरक्षा के लिहाज से सही नहीं माना जा रहा है और यही बंद हो जाएगा।

आरबीआई के नियम के मुताबिक मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड को चिप वाले कार्ड से रिप्‍लेस कर दिया जाएगा। RBI ने यह कदम ग्राहकों के एटीएम-डेबिट और क्रेडिट कार्ड की डिटेल्‍स सुरक्षित रखने के लिए उठाया है।

आरबीआई ने मैग्‍नेटिक स्ट्रिप वाले कार्डों को ईवीएम वाले चिप कार्ड से बदलने के लिए 31 दिसंबर, 2018 तक का वक्त दिया है। RBI का कहना है कि ईवीएम कार्ड से फर्जीवाड़ा होने का खतरा बेहद कम हो जाएगा।

मैग्‍नेटिक स्ट्रिप कार्ड से ट्रांजैक्‍शन के लिए उपभोक्ता के सिग्‍नेचर या पिन की जरूरत होती है। क्योंकि इसपर ग्राहक के अकांउट की डिटेल्‍स मौजूद होती है। इसी स्ट्रिप की मदद से कार्ड स्‍वाइप के वक्‍त मशीन आपके बैंक इंटरफेस से जुड़ती है और प्रोसेस आगे बढ़ता है।

वहीं चिप वाले कार्ड में सारी जानकारियां चिप में मौजूद होती हैं, इनमें भी ट्रांजैक्‍शन के लिए पिन और सिग्‍नेचर जरूरी होते हैं लेकिन ईएमवी चिप कार्ड में ट्रांजैक्‍शन के वक्‍त यूजर को वेरीफाई करने के लिए एक यूनीक ट्रांजैक्‍शन कोड जनरेट होता है, जो सुरक्षा के लिहाज से बेहतर है।

नेटबैंकिंग के जरिये आप मैग्नेटिक कार्ड को ईएमवी कार्ड में बदल सकते हैं, इसके लिए इंटरनेट लॉगिंग के बाद एटीएम कार्ड सर्विसेज में जाकर ईएमवी कार्ड के लिए रिक्वेस्ट कर सकते हैं। इसके अलावा आप अपने बैंक की शाखा में भी जाकर ईएमवी कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। बैंक कुछ दिनों बाद आपके रजिस्टर्ड एड्रैस पर आपका नया ईएमवी कार्ड भेज देगा।

Follow us on twitter – https://twitter.com/uttarakhandpost

Like our Facebook Page – https://www.facebook.com/Uttrakhandpost/