कोरोना | नैनीताल डीएम ने इन लोगों को दी लॉकडाउन में छूट, जानिए वजह

नैनीताल (उत्तराखंड पोस्ट) जिलाधिकारी सविन बंसल ने कहा कि उद्यान विभाग के अन्र्तग वर्तमान में जनपद के पर्वतीय क्षेत्रों में उत्पादित सेब, आडू आदि फलों तथा मैदानी क्षेत्रों में आम,लीची के बागानों में फ्लॉवरिंग का कार्य के साथ ही हल्दी, अदरक बुवाई एवं पौधा सुरक्षा तथा सब्जी पौध का रोपन कार्य चल रहा है इनमें कार्य कर रहे श्रमिकों एवं वाहनों को आवश्यक सेवाओं में मानते हुये लॉकडाउन में छूट दी जाती है।

जिलाधिकारी बंसल ने कहा कि मौन पालकों के मौनवंशों के माइग्रेशन एवं मशरूम उत्पादन कि बिक्री में लोडिंग अनलोडिंग, कीट-व्याधि नाशक रसायनों के साथ- साथ हल्दी एवं अदरक की ढुलाई में, उद्यान सचल दल केन्द्रो,राजकीय उद्यानों में अनिवार्य औद्याानिक क्रियाकलापों के सचालन हेतु, राजकीय उद्यानों की बाग बहार की नीलामी व निस्तारण में प्रतिभाग करने वाले ठेकेदार एवं सम्बन्धित कार्मिक, श्रमिकों, वाहनों को छूट दी जाती है। उन्होने कहा कि इसी प्रकार कृषि, उद्यान, उत्पादों, बीज, पेस्टीसाईट, दुग्ध एवं अन्य दुग्ध उत्पादों, कुक्कुट, एवं अण्डे,मीट आदि पदार्थो को अनिवार्य सामग्री मानते हुये इनके परिवहन तथा खुदरा बिक्री को तथा कृषि यंत्र कम्बाइड, स्टाªरीपर व ट्रैक्टर-ट्राली तथा औद्योनिक बागों में कीटनाशक के छिड़काव हेतु ट्रैक्टर चालित स्प्रेमशीन के मैकनिक वर्कशाप को समय-समय पर कोरोना से बचाव हेतु भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा जारी निर्देशो के अधीन अनुमति दी जाती है।

सोशल मीडिया में उत्तराखंड कांग्रेस के नए अध्यक्ष बने हरीश रावत ! दर्ज होगा मुकदमा

 

जिलाधिकारी बंसल ने कहा कि अनुमति इन निर्देशो  के साथ दी जाती है कि  श्रमिकों का कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु दिन में नियमित रूप से साबुन से हाथ साफ करने एवं पीने-खाने की व्यवस्था पृथक से करने कृषि उपकरणों का सेनिटाइजेशन के साथ ही श्रमिको हेतु मास्क,सेनिटाइजर की व्यवस्था के साथ ही उनके मध्य कम से कम 03 मीटर का फासला रखना सुनिश्चित करेगे। उन्होने यह भी निर्देश दिये समय -समय पर कोरोना के बचाव हेतु भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशो का परिपालन करना भी सुनिश्चित करेगे।

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                                

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost