शीतकाल के लिए बंद हुए तुंगनाथ मंदिर के कपाट, अब मक्कूमठ में होगी पूजा

रुद्रप्रयाग(उत्तराखंड पोस्ट) तृतीय केदार तुंगनाथ मंदिर के कपाट विधि-विधान के साथ शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। इस मौके पर मंदिर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रही।

बुधवार को सुबह पूजा अर्चना, श्रृंगार, मंदिर में भोग लगने के पश्चात स्वयंभू शिवलिंग को समाधि दी गई। इसके पश्चात तृतीय केदार तुंगनाथ के कपाट शीतकाल के लिए बंद किए गए। कपाट बंद होते ही तुंगतान की चल विग्रह डोली ने मंदिर की परिक्रमा की।

इसके बाद भक्तों ने डोली के साथ शीतकालीन गद्दी स्थल मक्कूमठ की ओर प्रस्थान किया। उत्सव डोली ने आज पहले पड़ाव चोपता में विश्राम करेगी। रास्ते में डोली का भव्य स्वागत किया गया। उत्सव डोली सात नवंबर को भनकुन में प्रवास करेगी। आठ नवंबर को यहां से रवाना होकर शीतकालीन गद्दीस्थल मक्कूमठ पहुंचेगी।

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                 

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost