उत्तराखंड | चारधाम यात्रा पर बड़ा फैसला, सिर्फ इन लोगों को मिलेगी दर्शन की अनुमति

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट)  कोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड ने 30 जून 2020 तक राज्य से बाहर के लोगों के लिए चारधाम यात्रा को पूर्ण रूप से बन्द करते हुए स्थानीय लोगों के लिये बहुत ही सीमित रूप में शुरु करने का फ़ैसला लिया है।

जिलाधिकारी के माध्यम से प्रतिदिन सीमित संख्या में स्थानीय श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए अनुमति दी जाएगी। चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिले के जिलाधिकारियों की रिपोर्ट के आधार पर उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड ने 30 जून तक यात्रा को स्थगित करने का निर्णय लिया है।

स्थानीय लोगों के अलावा किसी भी अन्य जिले या राज्य के श्रद्धालुओं को बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के दर्शन करने की अनुमति नहीं होगी।

उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड ने चारधामों में स्थानीय लोगों के जाने के लिए संख्या तय की है। बदरीनाथ में 1200, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री में 400 श्रद्धालु प्रतिदिन जाएंगे।

देवस्थानम बोर्ड के निर्णय के अनुसार बदरीनाथ धाम में सिर्फ जोशीमठ या आसपास के स्थानीय लोग ही दर्शन के लिए जा सकेंगे।

केदारनाथ में गुप्तकाशी, गौरीकुंड के लोग और गंगोत्री व यमुनोत्री में जानकी चट्टी व हनुमान चट्टी और आसपास के स्थानीय लोगों को ही दर्शन की अनुमति होगी। जिलाधिकारी अपने स्तर पर सीमित संख्या में दर्शन के लिए अनुमति देंगे।

उत्तराखंड के रोचक वीडियो के लिए हमारे Youtube चैनल को SUBSCRIBE जरुर करें-   http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                        

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost

Instagram-https://www.instagram.com/postuttarakhand/