उत्तराखंड  | बेटे लॉकडाउन में फंसे तो पड़ोसियों ने किया वृद्धा का अंतिम संस्कार

रामनगर (उत्तराखंड पोस्ट)कोरोना वायरस के कारण देश में लाॅकडाउन लागू जिसकी वजह से लोग कई जगहों पर फंसे हैं। इसी बीच ही नैनीताल जिले के रामनगर में बेटे अपनी मां का अंतिम संस्कार करने तक नहीं आ सके।ऐसे में पड़ोसी ने मानवता का धर्म निभाते हुए वृद्धा का अंतिम संस्कार कर दिया।

जानकारी के मुताबिक मधुवन कॉलोनी फेस एक पीरूमदारा निवासी 93 वर्षीय दुर्गा देवी का शनिवार सुबह बीमारी के चलते निधन हो गया। उनके दो बेटे हैं। एक बेटा नरेंद्र सिंह फरीदाबाद में सिंचाई विभाग में क्लर्क हैं और दूसरा बेटा पृथ्वी सिंह रिटायर सैनिक हैं।वह दिव्यांग हैं। दुर्गा देवी पीरूमदारा में पृथ्वी सिंह के परिवार के साथ ही रहतीं थीं लेकिन लॉकडाउन से पहले वह बेटी के पास दिल्ली चले गए थे। पोता पूरन सिंह आसाम राइफल्स में हैं। वह भी ड्यूटी पर हैं।

शनिवार की सुबह दुर्गा देवी के निधन की जानकारी मिलने पर कॉलोनी समिति के अध्यक्ष दिनेश बिष्ट मौके पर पहुंचे। उन्होंने वृद्धा के दोनों बेटों से फोन पर बात की, जिन्होंने लॉकडाउन के चलते मां के अंतिम संस्कार में आने में असमर्थता जताई। घर पर दोनों बेटों और पोते के न होने पर पड़ोसियों ने पीरूमदारा पुलिस चौकी को सूचना दी। पुलिस की अनुमति मिलने पर कॉलोनी निवासी नंदन सिंह, बलवंत सिंह, गोविंद सिंह रावत, धन सिंह, दलीप सिंह और हीरा सिंह आदि ने दुर्गा देवी का अंतिम संस्कार किया। वृद्धा को मुखाग्नि उनके पड़ोसी नंदन सिंह ने दी।

Youtube – http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost

Twitter– https://twitter.com/uttarakhandpost                                

Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost