पिथौरागढ़ और चमोली में बादल फटने से तबाही, 17 की मौत

उत्तराखंड में 72 घंटे में भारी बारिश के अलर्ट के बाद चमोली और पिथौरागढ़ जिले में बादलों ने तबाही मचा दी है। गुरुवार रात से हो रही बारिश से पिथौरागढ़ जिले के बतसड़ी, सिगली और नोलेरा में बादल फटने की घटना हुई है। बादल फटने से कई घरों के जमींदोज हो गए। पिथौरागढ़ में 30
 

उत्तराखंड में 72 घंटे में भारी बारिश के अलर्ट के बाद चमोली और पिथौरागढ़ जिले में बादलों ने तबाही मचा दी है। गुरुवार रात से हो रही बारिश से पिथौरागढ़ ‌जिले के बतसड़ी, सिगली और नोलेरा में बादल फटने की घटना हुई है। बादल फटने से कई घरों के जमींदोज हो गए। पिथौरागढ़ में 30 से ज्यादा लोग मलबे में दब गए हैं। जानकारी के अनुसार अब तक 8 लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई गई है।
वहीं बारिश से नदी में आए ऊफान से चमोली जिले में 9 लोगों की मौत होने की सूचना है।
वहीं बदरीनाथ हाईवे भी मलबा आने से जगह-जगह बंद हो गया है। बदरीनाथ से गौचर में बीच करी‌ब तीन हजार यात्रियों को सुरक्षित स्‍थानों पर रोका गया है।

पिथौरागढ़ में आज से सुबह भारी बारिश हो रही है। डीडीहाट और थल तहसील क्षेत्र में बादल फटने से भारी तबाही हुई है। सिंगाली, दाफिला, बस्तड़ी और नौलाड़ा क्षेत्र में बादल फटने से कई लोग बह गए। जानकारी के अनुसार करीब 30 लोग बहे हैं, जिसमें से 8 लोगों के शव मलबे से निकल लिए गए हैं। सूचना पर राहत बचाव कार्य शुरू किया गया है।

From around the web