इंस्पेक्टर के वेश में बेटे से मिलने आया शातिर बदमाश गिरफ्तार

414

दून पुलिस को लम्बे समय से छका रहा पुलिस के हाथ लग गया है। दून पुलिस ने उसे उस वक्त पकड़ा जब वह पुलिस इंस्पेक्टर के वेश में अपने बेटे से दून मिलने आया था। गौरतलब है 28 जुलाई को राजधानी में डेढ़ घंटे के भीतर आधा दर्जन बुजुर्गों से ठगी का मामला सामने आया था। इन सभी को तीन लोगों ने सम्मोहित कर ठगा था। आरोपियों में विनोद, उसका बेटा विवेक व एक ज्वेलर शामिल थे। पुलिस ने विवेक और ज्वेलर को घटना के अगले दिन 29 जुलाई को गिरफ्तार कर लिया था, जबकि विनोद भाग निकला था। तब से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी।
अपने बेटे की गिरफ्तारी के बाद आरोपी ने फोन पर पुलिस को खुद को गिरफ्तार करने की चुनौती तक दे डाली थी। उसे दबोचने के लिए कई दिनों से पुलिस की एक टीम अलीगढ़ में ही डेरा डाले हुई थी।
एसएसपी डॉ. सदानंद दाते ने बताया कि अलीगढ़ गई पुलिस टीम को सूचना मिली कि विनोद दून की सुद्धोवाला जेल में बंद बेटे विवेक से मिलने आ रहा है। चेकिंग के दौरान चंद्रबनी चौक पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
उसने उत्तर प्रदेश पुलिस की वर्दी पहन रखी थी। आरोपी की निशानदेही पर लोगों से ठगे गए सोने-चांदी के आभूषण भी बरामद किए गए। एसएसपी ने बताया कि आरोपी के पास से उत्तर प्रदेश पुलिस की वर्दी के अलावा नेम प्लेट और पुलिस उपनिरीक्षक का परिचय पत्र भी बरामद हुआ है।