यहां स्कर्ट में दफ्तर आने वाली महिलाओं को मिलेंगे ज्यादा पैसे, जानिए वजह

214

रुस (उत्तराखंड पोस्ट) रूस की एक एलुमिनियम प्रोडक्ट बनाने वाली टैटप्रोफ कंपनी ने महिला कर्मचारियों को स्कर्ट पहनने और मेकअप करके दफ्तर आने पर 104 रुपये प्रतिदिन ज्यादा देने का ऐलान किया है। कंपनी ने इस पर काम भी शुरू कर दिया है।

वर्क-प्लेस पर माहौल में सकारात्मकता और जीवंतता लाने के लिए कंपनी ने एक महीने का यह खास कार्यक्रम चलाया है। इस क्रम में स्कर्ट पहन कर ऑफिस आने वाली महिलाओं को कंपनी की तरफ से बतौर पुरस्कार यह पैसा दिया जाएगा। कंपनी के इस फैसले पर रूस में लोगों की मिली-जुली प्रतिक्रिया है।

हालांकि, जहां कुछ लोगों का कंपनी के इस फैसले पर सकारात्मक रुख है वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसकी आलोचना कर रहे हैं और फैसले को डार्क एज तक कह रहे हैं जबकि कंपनी की दलील है कि महिलाएं इससे जागरुक होंगी और दफ्तर में सहज होकर काम कर सकेंगी। कंपनी का दावा है कि इससे उनके प्रदर्शन में भी सुधार होगा।

कंपनी की तरफ से इस कार्यक्रम को लेकर कहा गया है कि ज्यादातर महिलाएं ट्राउजर पहनती हैं इसलिए हम चाहते हैं कि कार्यक्रम के जरिए एक जागरुकता लाएं और वो अपने नारीत्व को महसूस कर सकें। गर्मियों में स्कर्ट ज्यादा आरामदेह होता है।

कंपनी का यह विशेष कार्यक्रम 27 मई से शुरू हो चुका है जो 30 जून तक चलेगा और पैसे सिर्फ उन्हीं महिला कर्मचारियों को दिए जाएंगे जो स्कर्ट और मेकअप के साथ अपनी तस्वीरें कंपनी को भेंजेगी।