साक्षी ने खत्म किया ओलंपिक में पदक का सूखा, कुश्ती में जीता कांस्य

WRESTLING-OLY-2016-RIOफ्रीस्टाइल महिला पहलवान साक्षी मलिक ने बुधवार को रियो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर भारत के पदक के इंतजार को खत्म किया। 23 साल की साक्षी ने कजाकिस्तान की अइसुलू टाइबेकोवा को 58 किलोग्राम वर्ग में पराजित किया।

कोरिओका एरेना-2 मे हुए इस मुकाबले मे एक समय साक्षी 0-5 से पीछे थीं लेकिन दूसरे राउंड में उन्होंने उलट-पलट करते हुए इसे 8-5 से जीत लिया। साल 2015 में हुए एशियन चैम्पियनशिप में पोडियम फिनिश करने वाली साक्षी ओलम्पिक में कुश्ती में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बन गई हैं।

इससे पहले साक्षी मलिक रियो ओलंपिक के 12वें दिन बुधवार को फ्रीस्टाइल स्पर्धा के 58 किलोग्राम भारवर्ग के क्वार्टरफाइनल में हार गईं। इसी के साथ उनसे  गोल्ड या सिल्वर मेडल की भारत की उम्मीदें भी टूट गईं। हालांकि रेपचेज में उन्हें मौका मिल गया और वे कांस्य जीतने में सफल रहीं।

साक्षी मलिक ने इससे पहले 1/8 फाइनल्स चरण में जीत हासिल कर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। साक्षी ने मालदोवा की इसानू मारियाना चेरदिवारा को हराकर अगले दौर में जगह बनाई। स्कोर 5-5 से बराबर रहने के बाद साक्षी तकनीकी अंकों के आधार पर जीतने में सफल रहीं।

साक्षी पहले पीरियड में 0-3 से पीछे चल रही थीं। लेकिन दूसरे पीरियड में उन्होंने जबरदस्त वापसी करते हुए पांच हासिल किए और एक समय 5-3 से बढ़त ले ली। साक्षी को पहले पीरियड में चेतावनी मिली, जबकि चेरदिवारा को दूसरे पीरियड में चेतावनी दी गई। हालांकि वह इस बढ़त को कायम नहीं रख पाईं और उनकी विपक्षी स्कोर 5-5 से बराबर करने में सफल रहीं।
IMG_20160818_082333लेकिन साक्षी तकनीकी तौर पर अपनी प्रतिद्वंद्वी पर भारी रहीं और उन्हें विजेता घोषित किया गया। इससे पहले साक्षी ने बुधवार को ही अपने पहले मुकाबले में स्वीडन की पहलवान मलिन जोहान्ना मैटसन को 5-4 से हराया। मुकाबले से साक्षी को 3 क्लासिफिकेशन पॉइंट और इसानू को एक क्लासिफिकेशन अंक भी मिले।

उधर, राष्ट्रमंडल चैंपियन भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगट चोटिल होने के चलते क्वार्टरफाइनल मुकाबले से बाहर हो गईं। इससे पहले विनेश ने दमदार प्रदर्शन करते हुए एकतरफा मुकाबले में जीत हासिल करते हुए फ्रीस्टाइल स्पर्धा के 48 किलोग्राम भारवर्ग के 1/4 फाइनल्स में प्रवेश किया। विनेश को क्वालिफिकेशन राउंड में बाई मिला था और उन्होंने सीधे 1/8 फाइनल्स चरण से अपने अभियान की जीत के साथ शुरुआत की।

विनेश ने ग्रेट सुपीरियॉरिटी के साथ रोमानिया की अपनी प्रतिद्वंद्वी एमिला एलिना वुक को 11-0 से मात दे दी। विनेश ने पहले पीरियड में छह अंक (2,2,2) हासिल किए, जबकि दूसरे पीरियड में वह पांच (4,1) अकं जुटाने में सफल रहीं। विनेश को स्पर्धा से चार क्लासिफिकेशन अंक मिले हैं। विनेश का अगला मुकाबला चीन की सुन यानान से हुआ। अगर वह यह मैच जीत जातीं तो वह सेमीफाइनल में प्रवेश कर लेतीं लेकिन वे बीच मुकाबले में ही चोटिल हो गईं और बाहर हो गईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here