उत्तराखंड | ये खबर पढ़कर आप उत्तराखंड की मित्र पुलिस पर गर्व करेंगे, बात ही कुछ ऐसी है

116

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) कितना अच्छा लगता है जब कोई प्यार से आपसे बात करे, आपकी हर बात आराम से सुने और एक दोस्त की तरह आपकी मदद करे। इस बार कुछ ऐसा ही हुआ है।

उत्तराखण्ड पुलिस के कांस्टेबल मनोज पंडवाल की संवेदनशीलता और की गयी त्वरित कार्यवाही से प्रभावित होकर ओडिशा के पर्यटक ने बाकायदा ई-मेल भेजकर मित्र पुलिस को थैंक्यू बोला है। आपको भी सुकून देने वाली ये ई-मेल जरूर पढ़नी चाहिए। उत्तराखण्ड पुलिस वास्तव में मित्र पुलिस है इस ई-मेल से यही साबित होता है।

नीचे पढ़िए चिट्ठी में पर्यटक ने क्या लिखा- 

मैं उत्तराखंड पुलिस की तत्परता और त्वरित प्रतिक्रिया से बहुत खुश हुँ। 14.08 2019 को जोशीमठ से श्रीनगर वापस आते समय एक निजी वाहन में मैनें अपना आईफोन खो दिया था। मैंने उसके बाद टूर गाइड से संपर्क किया तो ड्राईवर ने सहायता के बदले पैसे मांगे। तब हम थाना श्रीनगर गये। वहां पर हमें कांस्टेबल मनोज पंडवाल मिले। उन्होंने धैर्यपूर्वक हमारी शिकायत सुनी और फोन नंबरों को नोट किया। उसके बाद हम वहां से चले गये। पुलिस थाने से चले जाने के बाद भी मनोज पंडवाल मुझे सारे घटनाक्रम से अवगत करा रहे थे। मनोज पंडवाल ने कुछ ही समय में उस टैक्सी ड्राइवर को पकड़ लिया और उससे फोन बरामद कर स्वंय मेरे मोबाइल को कूरियर के माध्यम से भिजवाया। जो आज दिनांक 19.08.2019 को मुझे अच्छी स्थिति में प्राप्त हो गया। उन्होंने जो व्यावसायिकता दिखाई वह उच्च कोटि की है। यह उत्तराखंड पुलिस के सक्षम नेतृत्व और प्रभावशीलता का स्तर बताता है।

Youtube Videos– http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Follow Twitter Handle– https://twitter.com/uttarakhandpost                 

Like Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost