मिसाल | गांव के युवकों ने शहीद को पत्नी को गिफ्ट किया घर, हथेलियों पर पैर रखकर करवाया गृह प्रवेश

676

इंदौर (उत्तराखंड पोस्ट) मध्य प्रदेश के इंदौर में देश के लिए प्राण न्यौछावर करने वाले शहीद जवान की पत्नी के लिए स्थानीय युवाओं ने अपने हथेलियां जमीन पर बिछा दीं। दरअसल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर गांव के युवाओं ने शहीद जवान की पत्नी को नया घर गिफ्ट किया है। 1992 में बीएसएफ जवान मोहन सिंह शहीद हो गए थे। गांव के युवकों ने 11 लाख रुपये इकट्ठा कर शहीद की पत्नी को सिर के ऊपर छत दिलाने में मदद की है।

शहीद का परिवार एक टूटे-फूटे घर में रहता था। घर की छत भी टूट चुकी थी। यहां तक कि सरकार की ओर से भी परिजनों को कोई सहायता नहीं मिली। परिवार की हालत देखने के बाद गांव के युवाओं ने घर मुहैया कराने के लिए ‘एक चेक एक दस्तखत’ अभियान चलाया।

अभियान से जुड़े विशाल राठी कहते हैं, ‘हमने शहीद की विधवा के लिए 11 लाख रुपये इकट्ठा किए। रक्षा बंधन और स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हमने मकान की चाबी उन्हें सौंप दी।’

नीचे देखिए वीडियो-

राठी ने बताया कि शहीद की पत्नी ने उन सभी को राखी बांधी। जल्द ही परिवार नए घर में शिफ्ट हो जाएगा। जब मोहन सिंह शहीद हुए थे तो उनका बेटा तीन साल का था। उस वक्त उनकी पत्नी गर्भवती थीं। शहादत के बाद शहीद की पत्नी ने किसी तरह बच्चों को पालन-पोषण किया।

राठी कहते हैं कि मकान पर 10 लाख रुपये की लागत आई है, जबकि एक लाख रुपये मोहन सिंह का स्टैचू (प्रतिमा) बनाने के लिए रखे गए हैं। राठी ने बताया, ‘स्टैचू भी तकरीबन तैयार है। इसके साथ ही जिस सरकारी स्कूल में मोहन सिंह पढ़ते थे, उसका नाम भी उन्हीं के नाम पर किए जाने की कोशिश चल रही है।

youtube Videos– http://www.youtube.com/c/UttarakhandPost 

Follow Twitter Handle– https://twitter.com/uttarakhandpost                 

Like Facebook Page– https://www.facebook.com/Uttrakhandpost