उत्तराखंड | चारधाम यात्रा पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का बड़ा बयान

  1. Home
  2. Char Dham Yatra

उत्तराखंड | चारधाम यात्रा पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का बड़ा बयान

Dhami

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा का आगाज हो चुका है और यात्रा के प्रति श्रद्धालुओं में गजब का उत्साह देखा जा रहा है। ऐसे में  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चार धाम यात्रियों की हाल में शासन की ओर से तय की गई 38 हजार की सीमा को बढ़ाने के संकेत दिए हैं।


 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) उत्तराखंड में चारधाम यात्रा का आगाज हो चुका है और यात्रा के प्रति श्रद्धालुओं में गजब का उत्साह देखा जा रहा है। ऐसे में  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चार धाम यात्रियों की हाल में शासन की ओर से तय की गई 38 हजार की सीमा को बढ़ाने के संकेत दिए हैं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि ऐसी कोई संख्या निर्धारित नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि तीर्थयात्रियों की संख्या अधिक बढ़ेगी तो इस पर विचार किया जाएगा।

आपको बता दें कि चारधाम यात्रा शुरू होने से पहले शासन ने आदेश जारी कर चारों धामों में प्रतिदिन दर्शन के लिए तीर्थयात्रियों की संख्या तय कर दी थी। यमुनोत्री धाम में 4 हजार, गंगोत्री में 7 हजार, केदारनाथ में 12 हजार तथा बदरीनाथ में 15 हजार की संख्या तय की गई थी। होटल एसोसिएशन उत्तरकाशी की तरफ से भी डीएम के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजकर आदेश वापस लेने की मांग की थी।

मंगलवार को गंगोत्री धाम पहुंचे सीएम पुष्कर सिंह धामी से पत्रकारों ने शासन के आदेश पर प्रतिक्रिया मांगी। इस पर सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि ऐसी कोई संख्या निर्धारित नहीं की गई है। हालांकि उन्होंने धामों में तीर्थयात्रियों की अधिक संख्या होने पर इस पर विचार करने की बात कही।

होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष शैलेंद्र मटूड़ा ने तीर्थयात्रियों की संख्या तय नहीं करने संबंधी सीएम के बयान का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा से जुड़े कारोबारियों को यात्रा सीजन से बड़ी उम्मीदें हैं। ऐसे में धामों में प्रतिदिन दर्शन के लिए यात्रियों की संख्या तय करना सही नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि जरूरत पड़ती भी है तो चारों धामों में संख्या बराबर रहनी चाहिए।