यमुनोत्री धाम के कपाट खुले, CM तीरथ ने दी बधाई, कहा- लोग घरों में पूजा-अर्चना करें

शुक्रवार को अक्षय तृतीया के शुभ संयोग पर उत्तराखंड में स्थित चारधाम के कपाट खोलने का क्रम शुरू हो गया है। आज शुभलग्न दोपहर 12:15 बजे यमुनोत्री धाम के कपाट खोले गए हैं।
 
यमुनोत्री धाम के कपाट खुले, CM तीरथ ने दी बधाई, कहा- लोग घरों में पूजा-अर्चना करें

यमुनोत्री (उत्तराखंड पोस्ट) शुक्रवार को अक्षय तृतीया के शुभ संयोग पर उत्तराखंड में स्थित चारधाम के कपाट खोलने का क्रम शुरू हो गया है। आज शुभलग्न दोपहर 12:15 बजे यमुनोत्री धाम के कपाट खोले गए हैं।

शुक्रवार प्रात: श्री यमुनोत्री जी की चलविग्रह डोली ने शीतकालीन गद्दीस्थल खरशाली( खुशीमठ) से प्रस्थान किया। उनको विदा करने छोटे भाई  शनिदेव  महाराज यमुनोत्री धाम पहुंचे।

कपाट खुलने के अवसर पर चुनिंदा तीर्थ पुरोहितो, जिला प्रशासन की मौजूदगी में कपाट खुले। इस अवसर पर सचिव सुरेश उनियाल, पवन उनियाल,कृतेश्वर उनियाल, श्री यमुनोत्री मंदिर समिति अध्यक्ष/उपजिलाधिकारी बड़कोट चतरसिंह चौहान आदि मौजूद रहे।  देवस्थानम बोर्ड की ओर से मां यमुना को भेंट समर्पित की गयी।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सभी देश-विदेश के श्रद्धालुओं को यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने पर बधाई दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को देखते हुए लोग घरों में पूजा-अर्चना करें। CM तीरथ ने ट्वीट करते हुए कहा कि अक्षय तृतीया के शुभ संयोग पर उत्तराखंड में स्थित चारधाम के कपाट खोलने का क्रम शुरू हो गया है।आज शुभलग्न दोपहर 12:15 बजे यमुनोत्री धाम के कपाट खोले गए हैं।आमजन की सुरक्षा सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। कोरोना को देखते हुए फिलहाल श्रद्धालुओं से धाम में न आने का आग्रह किया गया है।

CM ने कहा कि मंदिर में सिर्फ तीर्थ पुरोहित ही सीमित संख्या में विधिविधान के साथ मां यमुना की नियमित पूजा अर्चना करेंगे। मैं इस पवित्र मौके पर मां यमुना से कोरोना के जानलेवा संक्रमण से सभी की रक्षा करने और देश व प्रदेश की खुशहाली की कामना करता हूं।

From around the web