उत्तराखंड | मंत्री सतपाल महाराज हुए नाराज, जांच के आदेश दिए

  1. Home
  2. Dehradun

उत्तराखंड | मंत्री सतपाल महाराज हुए नाराज, जांच के आदेश दिए

Satpal_maharaj

कैबिनेट मंत्री महाराज ने कहा कि वर्षा के दौरान सड़क के डामरीकरण का कार्य किसी भी दशा में टिकाऊ नहीं हो सकता। रिखणीखाल क्षेत्र में इस तरह का मामला सामने आया है। इसकी जांच की जाएगी।




देहरादून (उत्तराखंड 
पोस्ट) कैबिनेट मंत्री महाराज ने कहा कि वर्षा के दौरान सड़क के डामरीकरण का कार्य किसी भी दशा में टिकाऊ नहीं हो सकता। रिखणीखाल क्षेत्र में इस तरह का मामला सामने आया है। इसकी जांच की जाएगी।

पौड़ी जिले के अंतर्गत रिखणीखाल क्षेत्र में वर्षा के दौरान हाटमिक्स से सड़क निर्माण की शिकायत का लोनिवि मंत्री सतपाल महाराज ने संज्ञान लेते हुए कार्य रुकवाने के साथ ही विभागाध्यक्ष को इस प्रकरण की जांच के आदेश दिए हैं। महाराज ने बताया कि वर्षाकाल को देखते हुए यह निर्देश भी दिए गए हैं कि सभी सड़कों पर नालियों की तत्काल सफाई कराई जाए, ताकि पानी की निकासी में किसी प्रकार की दिक्कत न हो।

कैबिनेट मंत्री महाराज ने बुधवार को पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में कहा कि वर्षा के दौरान सड़क के डामरीकरण का कार्य किसी भी दशा में टिकाऊ नहीं हो सकता। रिखणीखाल क्षेत्र में इस तरह का मामला सामने आया है।

उन्होंने बताया कि विभागाध्यक्ष को निर्देश दिए गए हैं कि प्रकरण की अविलंब जांच कराकर दोषियों के विरुद्ध तत्काल कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाए। साथ ही यह भी कहा गया कि भविष्य में इस तरह के प्रकरणों की पुनरावृत्ति न हो।

उन्होंने कहा कि राज्य में सड़कों के निर्माण में आधुनिक तकनीकी का समावेश किया जाएगा। इस सिलसिले जल्द ही एक कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें विशेषज्ञ सड़क निर्माण में नवीनतम आधुनिक तकनीकी की जानकारी देंगे। इसके माध्यम से पुलों व सड़कों की लागत भी कम होगी। उन्होंने बताया कि सड़क निर्माण में प्लास्टिक का उपयोग भी किया जा रहा है।