प्रेमिका के पति की हत्या कर सेना में करता रहा नौकरी, तेलंगना से पहुंची टीम तो हुआ खुलासा

राजधानी देहरादून से बड़ी खबर मिली है। यहां प्रेमिका के पति की हत्या करने के बाद सेना का जवान अपनी यूनिट में चुपचाप नौकरी करने लगा। मामला तब सबके सामने आया जब तेलंगाना पुलिस उसका पीछा करते हुए देहरादून के क्लिमेंट टाउन में उसकी यूनिट में पहुँच गयी। सेना से सुपुर्दगी के बाद तेलंगाना उसे अपने साथ ले गयी है।
 
0000

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) राजधानी देहरादून से बड़ी खबर मिली है। यहां प्रेमिका के पति की हत्या करने के बाद सेना का जवान अपनी यूनिट में चुपचाप नौकरी करने लगा। मामला तब सबके सामने आया जब तेलंगाना पुलिस उसका पीछा करते हुए देहरादून के क्लिमेंट टाउन में उसकी यूनिट में पहुँच गयी। सेना से सुपुर्दगी के बाद तेलंगाना उसे अपने साथ ले गयी है।

जानकारी के मुताबिक बुधवार को थाना मलकाज गिरी तेलंगाना पुलिस की टीम ने थाना क्लेमेंट टाउन पर  आकर सूचना दी कि उनके थाने पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 287 / 2021 धारा 302 भा द वि में वांछित अभियुक्त गुडला श्रीनिवास रेड्डी पुत्र मोहनराव निवासी विशाखापट्टनम आंध्र प्रदेश उम्र 30 वर्ष वांछित अभियुक्त है। जो वर्तमान में भारतीय थल सेना में कार्यरत है जिसकी पोस्टिंग क्लेमेंट टाउन आर्मी एरिया में है।

सूचना पर तेलंगाना पुलिस की सहायता हेतु थाना क्लेमेंट टाउन से थानाध्यक्ष क्लेमेंट टाउन मय फोर्स के क्लिमेंट टाउन आर्मी एरिया स्थित 14 इन्फेंट्री डिविजन सिगनल रेजीमेंट में पहुंचे और वहां सेना के अधिकारियों को मुकदमे की जानकारी देकर एवं जरूरी दस्तावेज प्रस्तुत करने के उपरांत मुकदमा उपरोक्त से संबंधित वांछित अभियुक्त गुडला श्रीनिवास रेड्डी उपरोक्त को तेलंगाना पुलिस के सुपुर्द किया गया।

मूल रूप से आंध्र प्रदेश विशाखापत्तनम मांडा लपीलेम का रहने वाला है और एक महिला भाग्यश्री (काल्पनिक नाम) से प्यार करता था। भाग्यश्री की शादी कुछ समय पूर्व विजय कुमार पुत्र शंकर राव निवासी पीवीएन कॉलोनी मलकाजगीरी हैदराबाद तेलंगाना से हो गई थी, जिस कारण अभियुक्त भाग्यश्री के पति विजय कुमार से रंजिश रखने लगा और दिनांक 8 मई को उसके घर पर जाकर पाठल से वार कर भाग्यश्री के पति विजय कुमार की हत्या कर मौके से फरार हो गया था। 24 मई को अभियुक्त गुडला श्रीनिवास रेड्डी छुपते छुपाते हुए अपनी आर्मी यूनिट क्लेमेंट टाउन वापस आ गया था। जिसे आज बाद आवश्यक कार्रवाई के तेलंगाना पुलिस के सुपुर्द किया गया।

From around the web