जानिए CM धामी ने क्यों कहा- मुझे सीएम बने 12-13 दिन हो गए, अब कोई गुलदस्ता लेकर ना आए

सीएम ने कहा कि मैने 4 तारीख को आपकी सेवा करने की शपथ ली और 12 13 दिन हो गए मुझे अब कोई गुलदस्ता भेंट न करेंष सीएम ने कहा कि किसी को मुझे कुछ भेंट करना है तो पेड़ दें जिसे हम कहीं न कहीं लगाएंगे जिससे प्राकृति संरक्षित हो। सीएम ने इस दौरान कहा कि आज हम सब लोगों को निश्चित रुप से उत्तराखंड संस्कृति और प्राकृति का केंद्र है जो पूरी दुनिया को दिशा देने का काम उत्तराखंड करता है।

 
0000
 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हरेला पर्व के अवसर पर एस.डी.आर.एफ बटालियन, जौलीग्रांट में वृक्षारोपण किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरेला उत्तराखंड का महत्वपूर्ण लोक पर्व है। हमें व्यापक स्तर पर वृक्षारोपण के साथ ही उनके संरक्षण पर भी विशेष ध्यान देना होगा। विज्ञान तेजी से तरक्की कर रहा है। इससे मानव जीवन में सुख सुविधाएं तो बढ़ी हैं, लेकिन पर्यावरण संतुलन के लिए अधिक से अधिक वृक्षारोपण जरुरी है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि कोविड को वजह से वैश्विक स्तर पर पर्यावरण संरक्षण के प्रति चिंता बढ़ी है। पर्यावरण संरक्षण के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ी है। उन्होंने कहा कि कोविड के दौरान उत्तराखंड पुलिस द्वारा सराहनीय कार्य किया किया गया। मिशन हौंसला के तहत पुलिस द्वारा अनेक जरूरतमंदों की सेवा की गई।

वहीं कार्यक्रम से पहले उनके स्वागत पर उन्हें गुलदस्ते दिए गए जिस पर सीएम ने मंच से कहा कि उन्हें सीएम बने अब 12 13 दिन हो गए हैं इसलिए अब कोई गुलदस्ता ना लाएं। सीएम ने कहा कि मुझे सैंकड़ों हजारों की संख्या में अच्छे अच्छे गुलदस्ते दिए जिनको मैने सहजकर रखा लेकिन मैने सोचा कि इसका काम क्या है। सीएम ने कहा कि मैने 4 तारीख को आपकी सेवा करने की शपथ ली और 12 13 दिन हो गए मुझे अब कोई गुलदस्ता भेंट न करेंष सीएम ने कहा कि किसी को मुझे कुछ भेंट करना है तो पेड़ दें जिसे हम कहीं न कहीं लगाएंगे जिससे प्राकृति संरक्षित हो। सीएम ने इस दौरान कहा कि आज हम सब लोगों को निश्चित रुप से उत्तराखंड संस्कृति और प्राकृति का केंद्र है जो पूरी दुनिया को दिशा देने का काम उत्तराखंड करता है।

From around the web