मेरे अभिमान को चोट पहुंची है, उत्तराखंड को फैसला करना है कि यह उचित हुआ या अनुचित: हरदा

पीएम मोदी के केदारनाथ दौरे पर पूर्व सीएम हरीश रावत ने जमकर निशाना साधा  है। हरीश रावत ने कहा कि पीएम मोदी उत्तराखंड की परंपराओं को रौंदकर चले गए। हरदा ने कहा- मैं, आदरणीय प्रधानमंत्री जी का आदर करता हूं लेकिन मुझे अपने मंदिरों की परंपराओं पर भी अभिमान है। कल मेरे अभिमान को चोट पहुंची है।
 
Harish

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) शुक्रवार को केदारनाथ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आदि शंकराचार्य की मूर्ति का अनावरण किया। मोदी ने केदारनाथ मंदिर में पूजा भी की। पीएम मोदी ने श्री केदारनाथ धाम में यात्री सुविधाओं को बढ़ाने के उद्देश्य से विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया।

पीएम मोदी के केदारनाथ दौरे पर पूर्व सीएम हरीश रावत ने जमकर निशाना साधा  है। हरीश रावत ने कहा कि पीएम मोदी उत्तराखंड की परंपराओं को रौंदकर चले गए। हरदा ने कहा- मैं, आदरणीय प्रधानमंत्री जी का आदर करता हूं लेकिन मुझे अपने मंदिरों की परंपराओं पर भी अभिमान है। कल मेरे अभिमान को चोट पहुंची है।

हरदा ने आगे कहा कि गर्भगृह से जिस तरीके से पूजा का प्रसारण किया गया, उसने मुझे कल से ही बड़ी उपापोह में डाला है। कल पीएम मोदी ने गर्भगृह से प्रसारण करवाया, लेकिन शिव के सामने तो सारे भक्त बराबर हैं, भविष्य में कैसे किसी से कहा जाएगा कि गर्भगृह में आप कैमरा लेकर नहीं जा सकते! आप मोबाइल लेकर नहीं जा सकते! आप रिकॉर्डिंग नहीं कर सकते!

पूर्व सीएम ने कहा कि फिर धीरे-धीरे लोग दूसरी परंपराओं व मान्यताओं को भी तोड़ेंगे, तो उत्तराखंड को फैसला करना है कि यह उचित हुआ या अनुचित हुआ! मेरी नजर में ये अनुचित हुआ, मैं अपनी भावना व्यक्त कर चुका हूं, बाकी मैं उत्तराखंड को समर्पित कर रहा हूं।

From around the web