युवाओं को रोजगार-स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराना हमारा उद्देश्य: धामी

धामी ने कहा कि युवाओं को समूह ‘ग’ की परीक्षा में शामिल होने के लिये अधिकतम आयु सीमा में एक साल की छूट दी गई है। भर्ती हेतु आवेदन शुल्क को माफ किया गया है। युवाओं को अधिक से अधिक स्वरोजगार से जोड़ने के लिये विभिन्न क्षेत्रों में कैम्पों का आयोजन का फार्म जमा करने तथा उनकी स्वीकृति प्रक्रिया की कार्यवाही पूर्ण करने की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गई है। युवाओं की मनोस्थिति से वे परिचित हैं।
 
dHAMI
  • युवा संवाद कार्यक्रम को मुख्यमंत्री ने किया संबोधित
  • युवाओं को रोजगार-स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराना हमारा उद्देश्य - मुख्यमंत्री
  • जन सेवा हमारा भाव, उत्तराखण्ड का समग्र विकास हमारा ध्येय - मुख्यमंत्री

 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित जनता मिलन हॉल में आयोजित युवा संवाद कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे युवाओं का भविष्य उज्ज्वल हो, उन्हें रोजगार, स्वरोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध हों इसके लिये राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है। युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिये लगभग 24 हजार सरकारी विभागों में उपलब्ध पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया प्रारम्भ की गई है।

धामी ने कहा कि युवाओं को समूह ‘ग’ की परीक्षा में शामिल होने के लिये अधिकतम आयु सीमा में एक साल की छूट दी गई है। भर्ती हेतु आवेदन शुल्क को माफ किया गया है। युवाओं को अधिक से अधिक स्वरोजगार से जोड़ने के लिये विभिन्न क्षेत्रों में कैम्पों का आयोजन का फार्म जमा करने तथा उनकी स्वीकृति प्रक्रिया की कार्यवाही पूर्ण करने की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गई है। युवाओं की मनोस्थिति से वे परिचित हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के कारण प्रभावित हुए पर्यटन आदि क्षेत्रों में स्वरोजगार से जुड़े लोगों के लिये राहत पैकेज स्वीकार किया गया है। उत्तराखण्ड हर क्षेत्र में आगे बढे, देश के अग्रणी राज्यों में हमारे राज्य का नाम हो इसके लिये हम निरंतर प्रयासरत हैं। जनसेवा का हमारा भाव है। उत्तराखण्ड का समग्र विकास ही हमारा ध्येय है। सरलीकरण, समाधान, निस्तारण और संतुष्टि का मंत्र लेकर हम अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे हैं। राज्यहित में जो भी अच्छा होगा वह हम करेंगे।

मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम में विभिन्न वक्ताओं द्वारा रखे गये सुझावों की सराहना करते हुए कहा कि राज्य हित में जो भी उपयोगी सुझाव होंगे उन पर बिना किसी भेदभाव के कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने इस प्रकार के आयोजनों को भी राज्य हित में बताया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि किशोर उपाध्याय ने कहा कि हमारी माता व बहनों के सिर का बोझ कम हो, युवाओं के सपने साकार हो, हमारे जल, जंगल की उपयोगिता का लाभ राज्य को मिले। राज्यवासियों को उनके हक हकूक मिलें, इस दिशा में पहल होनी चाहिए। उन्होंने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर राज्य के विकास में सभी से सहयोगी बनने की अपेक्षा की।

पद्मश्री वैद्य बालेंदु प्रकाश ने राज्य को जड़ी-बूटी के जरिये आयुष प्रदेश बनाने की दिशा में प्रभावी कार्ययोजना बनाये जाने की अपेक्षा की। सामाजिक कार्यकर्ता अनूप नौटियाल ने पर्यावरण संरक्षण के प्रति जन जागरूकता के प्रसार तथा प्लास्टिक के उपयोग को प्रतिबन्धित करने की दिशा में युवाओं को जागरूक किये जाने की जरूरत बतायी। वरिष्ठ पत्रकार श्री अनुपम त्रिवेदी ने कहा कि युवा प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री से युवाओं को बड़ी उम्मीद है। उन्होंने ऐसे युवा संवाद कार्यक्रम को सार्थक बताते हुए कहा कि युवा मीडिया के विभिन्न माध्यमों से जुडकर भी अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

From around the web