हरक के बयान से सनसनी, हर किसी के मन में सिर्फ यही सवाल, यहां मिलेगा जवाब

खबर उड़ने लगी कि यशपाल आर्य नाराज हैं और सीएम पुष्कर सिंह धामी उन्हें मनाने गए हैं। अचानक सीएम धामी के मंत्री के घर पहुंचने से सियासी भूचाल आ गया था। कई तरह के सवाल मीडिया, विपक्षी पार्टियों समेत लोगों के मन में उठने लगे थे। हालांकि सीएम धामी और मंत्री आर्य ने साफ किया कि यह शिष्टाचार मुलाकात थी।
 
HARAK
 

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) हरक सिंह रावत के बयान से एक बार फिर से उत्तराखंड का सियासी माहौल गर्मा गया है। हरक सिंह रावत ने मीडिया को दिए बयान में कहा कि वो दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिले और उन्होंने अमित शाह से कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य के मसले पर भी बात की।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री धामी बीते दिनों सुबह अचानक यमुना कालोनी स्थित कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य के आवास पर गए थे जहां दोनों ने ब्रेकफास्ट किया। सीएम की मंत्री के साथ इस मुलाकात को लेकर कई सियासी मायने निकाले गए।

खबर उड़ने लगी कि यशपाल आर्य नाराज हैं और सीएम पुष्कर सिंह धामी उन्हें मनाने गए हैं। अचानक सीएम धामी के मंत्री के घर पहुंचने से सियासी भूचाल आ गया था। कई तरह के सवाल मीडिया, विपक्षी पार्टियों समेत लोगों के मन में उठने लगे थे। हालांकि सीएम धामी और मंत्री आर्य ने साफ किया कि यह शिष्टाचार मुलाकात थी। इसके लिए कोई और अर्थ ना निकालें। मंत्री यशपाल आर्य ने साफ किया कि उनकी कोई नाराजगी नहीं है।

ब कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के बयान से फिर से सियासी माहौल गर्म हो गया है। मंत्री हरक सिंह ने दावा किया कि मंत्री यशपाल आर्य के मसले पर उन्होंने दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री से बातचीत की। कहा कि केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने यशपाल आर्य को याद भी किया है। हरक सिंह रावत का कहना है कि उन्होंने शुक्रवार को कैबिनेट की बैठक से पहले आर्य से बातचीत की थी। हालांकि, आर्य की नाराजगी किस बात को लेकर है, उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया। साथ ही कहा कि ऐसा कुछ नहीं है और हम सभी साथ हैं।

From around the web