जिन पर धन चटुआ होने के आरोप हैं, वो तीरथ मंत्रिमंडल में विद्यमान: हरीश रावत

रावत ने आगे कहा- जिन लोगों पर धन चटुआ होने के आरोप साया हुये हैं, वो यथा स्थान मंत्रिमंडल में विद्यमान हैं, कोई नयापन मंत्रिमंडल में दिखाई नहीं दे रहा है, भविष्य की नेतृत्व की क्षमता रखने वाले लोग मंत्रिमंडल से गायब हैं।
 
जिन पर धन चटुआ होने के आरोप हैं, वो तीरथ मंत्रिमंडल में विद्यमान: हरीश रावत

देहरादून (उत्तराखंड पोस्ट) पूर्व सीएम हरीश रावत ने तीरथ सिंह रावत मंत्रिमंडल गठन पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। हरीश रावत ने कहा- पूर्ववर्ती मंत्रिमंडल के निकम्मे पन, कुशासन व भ्रष्टाचार के लिये केवल दो लोग दोषी पाये गये, उनमें से एक व्यक्ति को उत्तराखंड भाजपा के अध्यक्ष पद से नवाज दिया गया ताकि कुंभ की ईट उखड़ाई, नाली खुदाई, रंगाई-पुताई सब ठीक-ठाक दिखाई दे।

रावत ने आगे कहा- जिन लोगों पर धन चटुआ होने के आरोप साया हुये हैं, वो यथा स्थान मंत्रिमंडल में विद्यमान हैं, कोई नयापन मंत्रिमंडल में दिखाई नहीं दे रहा है, भविष्य की नेतृत्व की क्षमता रखने वाले लोग मंत्रिमंडल से गायब हैं।

CM तीरथ के मंत्रिमंडल में शामिल हुए 11 विधायक, यहां जानिए उनके बारे में

पूर्व सीएम ने आगे कहा- मेरे एक दोस्त ने मुझे टेलीफोन करके कहा कि बोतल में नया लेवल लगाकर पुरानी ही शराब है। इस सारे परिवर्तन से भाजपा ने अपने आंतरिक झगड़े भले ही सुलझाएं हों, मगर राज्य की जनता को कुछ भी नया प्राप्त नहीं होने जा रहा है। राज्य के भद्र, वरिष्ठ विधायक को आदरणीय श्री आडवाणी जी व मुरली मनोहर जोशी जी की श्रेणी में रखना एक उपलब्धि बताई जा सकती है।

From around the web