खुशख़बरी | सस्ता होगा खाने का तेल ! सरसों, रिफायंड और पाम तेल के घटेंगे दाम

इससे लोगों के किचन का बजट बिगड़ गया है। हालांकि, इस बीच एक राहत भरी खबर भी आ रही है। खबर है कि खाने के तेलों के दाम घटेंगे, यानि खाद्य तेल सस्ता होने वाला है।
 
Oil
नई दिल्ली (उत्तराखंड पोस्ट) खाने के तेल के भाव लगातार बढ़ रहे हैं। पिछले आठ महीनों में खाने के तेल जैसे कि सरसों तेल, रिफायंड तेल और पाम तेल की कीमतों में 40-50% की वृद्धि हुई है।

इससे लोगों के किचन का बजट बिगड़ गया है। हालांकि, इस बीच एक राहत भरी खबर भी आ रही है। खबर है कि खाने के तेलों के दाम घटेंगे, यानि खाद्य तेल सस्ता होने वाला है।

चीन मार्केटिंग ईयर 2021-22 में अक्टूबर 2021-सितंबर 2022 तक अपनी पाम ऑयल की खरीद को कम करेगा, क्योंकि वह घरेलू खाद्य तेल उत्पादन में तेजी लाने की कोशिश कर रहा है। इसके अलावा उद्योग चाहता है कि सरकार खाद्य तेलों पर आयात शुल्क कम करे ताकि उपभोक्ताओं को कुछ राहत मिल सके।

ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार पाम तेल (ताड़ का तेल), सनफ्लावर (सूरजमुखी) और सोया ऑयल के आयात पर लगने वाले एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड डेवलपमेंट सेस को घटा सकती है। इससे कीमत में गिरावट आएगी और आम जनता को थोड़ी राहत मिलेगी। बता दें कि इस समय खाने के तेल का भाव पिछले पांच सालों के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है।

गौरतलब है कि सरकार ने बजट 2021 में एग्रीकल्चर इन्फ्रा को डेवलप करने के मकसद से एग्री सेस को शुरू किया था। इस समय पाम ऑयल पर यह 17.50 फीसदी और सूरजमुखी व सोयाबीन तेल पर 20 फीसदी है, अगर इसमें कटौती होती है तो दाम कम होंगे।

From around the web